2 हजार अरब डॉलर के मार्केट कैप वाली दुनिया की सबसे बड़ी कंपनी बनी एप्पल

2 हजार अरब डॉलर के मार्केट कैप वाली दुनिया की सबसे बड़ी कंपनी बनी एप्पल

2 हजार अरब डॉलर के मार्केट कैप वाली दुनिया की सबसे बड़ी कंपनी बनी एप्पल

न्यूयॉर्क : लग्जरी स्मार्टफोन बनाने वाली कंपनी एप्पल शेयर के बाजार में दो हजार अरब डॉलर की पहली कंपनी बन गई है। एप्पल एक हजार अरब डॉलर की बाजार हैसित के मामले पहली कंपनी थी। सऊदी अरामको ने दिसंबर 2019 में 2 हजार अरब डॉलर का बाजार पूंजीकरण हासिल किया था। हालांकि उसके बाद से इस कंपनी का पूंजीकरण कम होकर 1,820 अरब डॉलर पर आ चुका है। एप्पल के सबसे ज्यादा बिकने वाले स्मार्टफोन आईफोन का विनिर्माण चीन में होता है।

कोरोना वायरस महामारी के कारण चीन में लॉकडाउन के झटके से एप्पल उबरने में कामयाब रही है। इस वजह से कंपनी का शेयर इस साल अब तक करीब 60 प्रतिशत चढ़ चुका है। उल्लेखनीय है कि एप्पल, माइक्रोसॉफ्ट, अमेजन, फेसबुक और गूगल ये पांच अमेरिकी कंपनियां ही एसएंडपी 500 की कंपनियों के सम्मिलित बाजार मूल्यांकन में करीब 23 प्रतिशत योगदान करती हैं।

बता दें कि ऐप्पल के सीईओ टिम कुक ने अरबपतियों की सूची में अपना नाम दर्ज करा लिया है। कूपटीर्नो स्थित इस आईफोन निर्माण कंपनी ने पिछले सारे रिकॉर्ड को तोड़ते हुए 184000 करोड़ डॉलर की पूंजी के साथ अब दुनिया की सबसे मूल्यवान कंपनी बन गई है। कुक की कुल संपत्ति अब 100 करोड़ डॉलर के आंकड़े को पार हो गई है जिससे अब वह भी आधिकारिक रूप से अरबपतियों की सूची में शामिल हो गए हैं।

हालांकि एमेजॉन के सीईओ जेफ बेजोस (18700 करोड़ डॉलर), माइक्रोसॉफ्ट के पूर्व सीईओ बिल गेट्स (12100 करोड़ डॉलर) और फेसबुक के सीईओ मार्क जुकरबर्ग (10200 करोड़ डॉलर) जैसे ब्लूमबर्ग बिलियनेयर्स की दौड़ में शामिल होने के लिए कुक को अभी लंबा सफर तय करना है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *