Tuesday , June 28 2022

Waetइन राज्य में जल्द मिलेगी भीषण गरमी से राहत

राजधानी दिल्ली समेत उत्तर-पश्चिम और मध्य भारत में सोमवार से भीषण गरमी से राहत मिल सकती है। मौसम विभाग के मुताबिक दिल्ली, हिमाचल प्रदेश, पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़, पूर्वी राजस्थान और उत्तर प्रदेश के कुछ भागों में बादल छाए रहेंगे। यहां के लोगों को लू और भीषण गरमी से थोड़ी राहत मिलेगी।
मौसम विभाग का अनुमान है कि 3 मई से मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, तेलंगाना और पश्चिमी राजस्थान में भी गरमी का कहर कम होगा। बता दें कि इन दिनों भारत में भीषण गरमी पड़ रही है। उत्तर पश्चिम और मध्य भारत में इस अप्रैल 122 साल का रेकॉर्ड टूट गया। यहां औसत अधिकतम तापमान 35.9 डिग्री सेल्सियस और 37.78 डिग्री सेल्सियस पहुंच गया।

उत्तर पश्चिम भारत में अप्रैल 2010 में औसत तापमान 35.4 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया था। उससे पहले साल 1973 में 37.75 डिग्री दर्ज हुआ था। वैज्ञानिकों ने जलवायु परिवर्तन को लेकर आगाह किया है। इस क्षेत्र में बढ़ते तापमना का असर एक अरब लोगों पर पड़ेगा।

क्या है हीटवेव?

बहुत सारे लोग लू को हीटवेव समझते हैं लेकिन ऐसा नहीं है। जब कई दिनों तक तापमान सामान्य से ज्यादा रहता है और आर्द्रता भी बढ़ जाती है तो इसे हीट वेव कहते हैं। मैदानी इलाकों में जब तापमान 40 डिग्री से ऊपर चला जाता है तो मौसम विभाग हीट वेव की घोषणा करता है। इस साल गरमी बढ़ने का कारण मार्च के अंत में बनने वाला एंटी साइक्लोन बताया जा रहा है। यह एक महीने जल्दी बन गया है। इस वकजह से रेगिस्तानी इलाकों से गर्म हावएँ आने लगी हैं

Leave a Reply

Your email address will not be published.

9 + eighteen =