Wednesday , January 19 2022

BJP को एक और झटका MLA विनय शाक्य ने दिया इस्तीफा

Lucknow. उत्तर प्रदेश की राजनीति में इस वक्त भूचाल आ गया है। चुनाव से पहले ही भारतीय जनता पार्टी (BJP) को झटके मिलने शुरू हो गए हैं। पहले स्वामी प्रसाद मौर्य ने मंत्रीपद से इस्तीफा दिया। फिर उनके समर्थकों ने भाजपा से इस्तीफा दिया। फिर योगी सरकार में वन, पर्यावरण एवं जन्तु उद्यान मंत्री दारा सिंह चौहान ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है।

वहीं, शिकोहाबाद से बीजेपी के विधायक मुकेश शर्मा ने अपना इस्तीफा दे दिया है। इसके बाद अब खबर आई की बीजेपी विधायक विनय शाक्य ने भी बीजेपी से इस्तीफा दे दिया है। विनय शाक्य ने अपने त्याग पत्र में लिखा, “स्वामी प्रसाद मौर्य दलितों की आवाज हैं और वह हमारे नेता हैं। मैं उनके साथ हूं।”

शाक्य ने गुरुवार को यूपी बीजेपी चीफ स्वतंत्र देव सिंह को भेजे इस्तीफे में कहा है कि भाजपा सरकार द्वारा 5 वर्ष के कार्यकाल में दलित, पिछड़ों और अल्पसंख्यक समुदाय के नेताओं व जनप्रतिनिधियों को कोई तवज्जो नहीं दी गई और ना उन्हें उचित सम्मान दिया गया। शाक्य, आठवें विधायक हैं जिन्होंने पार्टी छोड़ी है।

बता दें कि इससे पहले इससे पहले गुरुवार को ही फिरोजाबाद के शिकोहाबाद से विधायक मुकेश वर्मा ने भी स्वामी प्रसाद मौर्य को समर्थन देते हुए इस्तीफा दिया। वर्मा ने कहा- हमारे साथ 100 विधायक हैं और भाजपा को रोज इंजेक्शन लगेगा। उन्होंने कहा कि बीजेपी अगड़ों की पार्टी है और वहां दलितों और पिछड़ों का सम्मान नहीं है। वर्मा ने दावा किया कि पिछड़ों को टारगेट करके नौकरी नहीं लगने दी. वर्मा ने कहा ‘भाजपा दलित, अल्पसंख्यक और पिछड़ा विरोधी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

eighteen + 14 =