UP Monsoon session: CM योगी बोले- यह पहली महामारी है जिसमें एक भी गरीब भूखा नहीं मरा

Lucknow: उत्तर प्रदेश में विधानसभा का मानसून सत्र 17 अगस्त से शुरू हो गया। मानसूत्र सत्र के तीसरे दिन उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि पिछले 5 वर्ष के दौरान प्रदेश में बज़ट का दायरा लगभग दोगुना हुआ। आज हम लगभग 6 लाख करोड़ रुपये तक बज़ट के दायरे को पहुंचाने में सफल रहे हैं। बड़ी सोच, बड़े कार्य तो बज़ट का दायरा भी बड़ा होगा। सीएम योगी ने कहा प्रदेश की GSDP 5 वर्ष पहले 10-11 लाख करोड़ के आसपास थी आज हम इसे 20-21 लाख करोड़ रुपये तक पहुंचें में सफल हुए हैं। 2015-16 में उत्तर प्रदेश देश अर्थव्यवस्था में 6 नंबर पर थे। उत्तर प्रदेश आज नंबर 2 की अर्थव्यवस्था बनी है।

मुख्यमंत्री ने कहा, यह पहली महामारी है जिसमें एक भी गरीब भूखा नहीं मरा। हमें महामारी को तो स्वीकार करना होगा नहीं तो बीमारी के उपचार के लिए और बीमारी से बचाव के लिए कोई अभियान आगे नहीं बढ़ पाएगा। व्यवसाय की सुगमता क्या होनी चाहिए इसपर हमने व्यापक संशोधन किए, नीतियां बनाई जिसके परिणाम सामने हैं। अगर दुनिया में भारत निवेश का सबसे अच्छा देश है, तो देश में उत्तर प्रदेश सबसे अच्छा गंतव्य है। इज ऑफ डूइंग बिजनेस में यूपी 16वें स्थान से दूसरे स्थान पर आया है।

सीएम योगी ने कहा सदन में उपस्थित समस्त सदस्यगणों का मैं अभिनंदन करता हूं। हमारी सरकार द्वारा कल सदन में प्रस्तुत अनुपूरक बजट पर नेता प्रतिपक्ष जी व अन्य दलों द्वारा रखे गए सुझाव व आत्मविचार का स्वागत करता हूं। उन्होंने कहा सदन में ‘लोक कल्याण संकल्प पत्र’ को ध्यान में रखकर विगत फरवरी माह में वर्ष 2021-22 का बजट प्रस्तुत किया गया। इस कोरोना काल में जीवन व जीविका को बचाने हेतु प्रारंभ हुए प्रयासों को देखते मानसून सत्र में पुनः हमें अनुपूरक बजट के साथ आना पड़ा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

one × 3 =