Thursday , June 23 2022

जेल भेजे गए जबरिया रिटायर IPS अमिताभ ठाकुर, बोले-मेरी हत्या हो सकती है

Lucknow. उत्तर प्रदेश के पूर्व आईपीएस अधिकारी अमिताभ ठाकुर को लखनऊ की हजरतगंज पुलिस ने गिरफ्तार किया है। उनकी गिरफ्तारी का एक वीडियो भी सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है। जिसमें वह पुलिस से एफआईआर की कॉपी मांगते दिख रहे हैं। पुलिस अमिताभ को घसीटते हुए हजरतगंज थाने ले जा रही है और वह इसका विरोध कर रहे हैं।

गिरफ्तारी के बाद अमिताभ ठाकुर को मेडिकल के लिए सिविल अस्पताल ले जाया गया। जहां उन्होंने मीडिया से कहा कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ मेरी हत्या करा सकते हैं। मुझे जानबूझकर प्रताड़ित किया जा रहा है। जिस केस से मेरा कोई मतलब नहीं, उसमें मुझे फंसाया जा रहा है। वहीं, शाम 6 बजे ठाकुर को मेडिकल के बाद हजरतगंज पुलिस ने कोर्ट में पेश किया है। कोर्ट से उन्हें जेल भेजे जाने के आदेश हुए।

दरअसल, अमिताभ ठाकुर पर रेप के आरोपी बहुजन समाज पार्टी (BSP) सांसद अतुल राय का साथ देने का आरोप है। रेप पीड़िता और उसके गवाह दोस्त सत्यम राय ने सुप्रीम कोर्ट के बाहर 16 अगस्त को वीडियो बनाकर अमिताभ ठाकुर पर आरोप लगाया था। इसके बाद दोनों ने आग लगाकर आत्मदाह करने की कोशिश की थी। इलाज के दौरान पिछली 21 अगस्त को गवाह और 24 अगस्त को रेप पीड़िता की भी मौत हो गई थी।

बता दें कि यूपी में आगामी विधान सभा चुनाव को लेकर अमिताभ ठाकुर ने शुक्रवार को ही अपनी राजनीतिक पार्टी का ऐलान किया था। उन्होंने पार्टी का नाम ‘अधिकार सेना’ रखा है। अमिताभ ने गोरखपुर से चुनाव लड़ने का ऐलान किया है। वे 21 अगस्त को गोरखपुर में चुनाव प्रचार के लिए जा रहे थे। इसी दौरान पुलिस ने उन्हें रोककर हाउस अरेस्ट कर लिया था। इसके बाद उनसे कई बार इस मामले में पूछताछ भी हो चुकी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

4 × 1 =