डाक के जरिए वोटिंग कम करने के लिये ट्रंप ने रोका डाक सेवा का पैसा

डाक के जरिए वोटिंग कम करने के लिये ट्रंप ने रोका डाक सेवा का पैसा

डाक के जरिए वोटिंग कम करने के लिये ट्रंप ने रोका डाक सेवा का पैसा

वाशिंगटन : अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने खुलेआम स्वीकार किया कि वह अमेरिकी डाक सेवा को धन से वंचित रख रहे हैं ताकि बड़े पैमाने पर डाक के जरिए संभावित मतदान को मुश्किल बनाया जा सके। ट्रंप को संदेह है कि इससे उन्हें नुसकान पहुंच सकता है। ट्रंप ने एक साक्षात्कार में कोष देने के दो प्रावधानों का जिक्र किया, जिनकी डेमोक्रेट्स राहत पैकैज में मांग कर रहे हैं और जो कैपिटोल हिल में अटका हुआ है।

उन्होंने कहा कि अतिरिक्त धन के बिना डाक सेवा के पास बड़ी संख्या में मतदाताओं के मतपत्रों को संभालने की क्षमता नहीं होगी, जो कोरोना वायरस संक्रमण के कारण मतदान स्थल पर जाने से बचना चाहते हैं। ट्रंप ने कहा, ‘अगर हम कोई समझौता नहीं करते हैं तो इसका मतलब है कि उन्हें कोई धन नहीं मिलेगा। इसका तात्पर्य है कि वे डाक के जरिए मतदान नहीं करा सकते, वे ऐसा नहीं कर सकते। ट्रंप का यह बयान ऐसे वक्त में आया है जब वह नवंबर में होने वाले राष्ट्रपति चुनाव में अपने प्रतिद्वंद्वी जो बाइडेन से बढ़त हासिल करने के लिए रणनीति तलाश रहे हैं।

ट्रंप का यह बयान डेमक्रेट्स के लिए नया संदेश है कि राष्ट्रपति मतदान के अधिकार को कड़े करने का प्रयास कर रहे हैं। बाइडेन ने कहा कि यह, ‘असली ट्रंप। वह चुनाव नहीं चाहते। वहीं पोस्टमास्टर जनरल लूइस डेजोय कह चुके हैं कि एजेंसी आर्थिक रूप से असमर्थ स्थिति में हैं, हालांकि उन्होंने स्पष्ट किया कि वह इस वर्ष डाक मतदान को संचालित कर सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *