शिक्षकों ने दी ट्रम्प को हड़ताल की चेतावनी, बोले – स्कूलों में पर्याप्त व्यवस्था नहीं

नई दिल्ली : वैश्विक महामारी के प्रसार के कारण देश भर स्कूल और कॉलेज पर पूरी तरह से प्रतिबंध लगाया गया था. ऐसे में अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रम्प ने देश के सभी स्कूलों को फिर से खोलने की बात कही है. हाल ही में एक स्कूल के मैनेजमेंट ने इस पर आपत्ति जताते हुए कहा था कि अभी माहौल अनुकूल नहीं है ऐसे में सितंबर से पहले स्कूल नहीं खोले जा सकते.

अमेरिका में विभिन्न शिक्षक संगठनों के सदस्य व 70% शिक्षकों ने चेतावनी दी है कि अगर कोरोनाकाल के दौरान स्कूल खोले गए तो वे हड़ताल पर चले जाएंगे. एक संगठनों ने बयान जारी कर हड़ताल की चेतावनी की पुष्टि की है. अमेरिकन फेडरेशन ऑफ टीचर्स के अध्यक्ष रैंडी वेनगार्टन ने कहा कि स्कूलों में कोरोना की रोकथाम के लिए पर्याप्त व्यवस्था नहीं है. ज्यादातर कक्षाओं में वेंटिलेशन नहीं हैं. मास्क भी कम पड़ रहे हैं. शिक्षकों की मांग है कि ऑनलाइन पढ़ाई भी सीमित की जाना चाहिए.

वहीँ एक संगठन ने स्कूल खोलने के आदेश के खिलाफ फ्लोरिडा के गवर्नर रॉन डीसैंटिस पर मुकदमा कर दिया है. इस पर जन शिक्षा केंद्र के प्रमुख रॉबिन लेक ने कहा कि ‘पूरे मामले में बच्चों को मोहरा बनाकर इस्तेमाल किया जा रहा है.’ इसी महीने हुए सर्वे में 60% अभिभावकों ने शिक्षकों की मांग का समर्थन किया है. बता दें कि अमेरिका में कोरोना के अब तक 45,68,375 मरीज मिले हैं. जबकि 1,53,848 मौतें हुई हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

three × one =