Wednesday , January 19 2022

गिरफ्तारी वारंट पर स्वामी प्रसाद मौर्य का बयान, बोले- मनोबल कमजोर नहीं होगा

Lucknow. उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव से पहले भारतीय जनता पार्टी (BJP) से नेताओं के जाने का सिलसिला जारी है। स्वामी प्रसाद मौर्य और दारा सिंह के बाद गुरुवार को 2 विधायकों मुकेश वर्मा और विनय शाक्य ने भी बीजेपी को अलविदा कह दिया। वहीं आयुष मंत्री धर्म सिंह सैनी ने भी सीएम योगी को झटका देते हुए मंत्रीपद से इस्तीफ़ा दे दिया। उधर, स्वामी प्रसाद मौर्य पर इस्तीफे के बाद एमपी-एमएलए कोर्ट ने गिरफ्तारी वारंट जारी किया। जिसमें सुल्तानपुर के कोर्ट ने उनको आगामी 24 जनवरी तक पेश होने को कहा गया है।

बता दें कि साल 2014 में देवी-देवताओं पर आपत्तिजनक टिप्पणी करने के मामले में बुधवार को पूर्व मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य अदालत में हाजिर नहीं हुए तो अपर मुख्य दंडाधिकारी एमपी-एमएलए ने आरोपित पूर्व श्रम मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य के खिलाफ पूर्ववत जारी गिरफ्तारी वारंट को जारी करने का आदेश दिया है। अब इस मामले में 24 जनवरी को सुनवाई की तारीख तय हुई है।

वहीं इस वांरट पर स्वामी प्रसाद मौर्य ने कहा कि 8 साल पुराने केस में मंत्रिमंडल से इस्तीफा देते ही दूसरे दिन गैर जमानती वारंट जारी हुआ। इस प्रकार से दर्जनों केस भी लगेंगे तो स्वामी प्रसाद मौर्य का मनोबल कमजोर नहीं होगा, ये जितना छेड़ेंगे हम उतनी ही तेजी से इनपर हमलावर होकर नेस्तनाबूद करेंगे।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

19 − thirteen =