सुशांत के दिमाग का पोस्टमार्टम करवाएगी CBI, पहले भी हो चुकी इस तरह की जांच

नई दिल्ली : सुशांत सिंह राजपूत की मौत मामले में सीबीआई अपनी जांच को काफी तेजी से आगे बढ़ा रही है। इस मामले में एक के बाद एक कई लोगों से सीबीआई पूछताछ कर चुकी है और उनके बयान दर्ज किए जा चुके हैं। लेकिन अभी तक इस पूरे मामले की गुत्थी सुलझती नजर नहीं आ रही है। इस बीच यह खबर सामने आई है कि सीबीआई सुशांत सिंह राजपूत के दिमाग की भी ऑटोप्सी करेगी।

सुशांत की जिंदगी से जुड़ी हर बात का विश्लेषण करेगी सीबीआई

यानि सुशांत सिंह राजपूत की जिंदगी से जुड़ी हर बात, जिसमे उनका सोशल मीडिया अकाउंट, व्हाट्सएप चैट, परिवार और दोस्तों के साथ उनकी बात का भी सीबीआई विश्लेषण करेगी। इसके लिए सेंट्रल फॉरेंसिक साइंस लैबोरेटरी की मदद ली जाएगी। इसके साथ ही सीबीआई सुशांत के मूड स्विंग, बर्ताव में आने वाले बदलाव, व्यक्तिगत पहचान को भी समझने की कोशिश करेगी ताकि उसे सुशांत की मानसिक स्थिति की सही जानकारी मिल सके जिसके चलते सुशांत ने आत्महत्या जैसा बड़ा कदम उठाया।

सूत्रों ने बताया कि सुशांत सिंह राजपूत के दिमाग का पोस्टमार्टम किया जाएगा। बता दें कि इससे पहले इस तरह की जांच सिर्फ दो बार ही हुई है और अब तीसरी बार सीबीआई सुशांत मामले में करने जा रही है। सुशांत सिंह राजपूत से पहले इस तरह की जांच सुनंदा पुष्कर और बुराड़ी नरसंहार केस में की गई थी।

एम्स की चार सदस्यीय फॉरेंसिक टीम से ली जा रही है मदद

इसके साथ ही सुशांत सिंह राजपूत की पोस्टमार्टम रिपोर्ट को भी सीबीआई करीब से समझने की कोशिश कर रही है। इसके लिए एम्स की चार सदस्यीय फॉरेंसिक टीम की मदद ली जा रही है जोकि सुशांत सिंह राजपूत की अटोप्सी रिपोर्ट की जांच करेगी। सुशांत सिंह राजपूत मामले की जांच हाथ में आने के बाद से ही सीबीआई शुक्रवार से मुंबई में अपना डेरा डाले है। बता दें कि सुशांत मामले की जांच सीबीआई की क्रैक टीम की वही यूनिट कर रही है जिसके पास विजय माल्या का भी केस है।

संभावना है कि सीबीआई जल्द ही इस मामले में रिया चक्रवर्ती को पूछताछ के लिए समन कर सकती है और अगर वह पूछताछ में सहयोग नहीं करती हैं, तो उन्हें सीबीआई हिरासत में भी ले सकती है। इसकी पुष्टि सुशांत सिंह राजपूत के वकील विकास सिंह ने कही है। विकास सिंह सुशांत सिंह राजपूत के पिता केके सिंह के वकील हैं और सुप्रीम कोर्ट में सुशांत मामले की जांच पटना से मुंबई ट्रांसफर करने के मामले की पैरवी कर चुके हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

nineteen − 1 =