Wednesday , January 19 2022

सपा के हुए स्वामी, बोले- मैं जिसका साथ छोड़ता हूं, उसका कहीं अता-पता नहीं रहता

Lucknow. समाजवादी पार्टी ने शुक्रवार को लखनऊ वर्चुअल रैली का आयोजन किया। इस रैली में भारतीय जनता जनता पार्टी (BJP) को झटका देने वाले स्वामी प्रसाद मौर्य के साथ ही धर्म सिंह सैनी, भगवती सागर, विनय शाक्य, रोशन लाल वर्मा, मुकेश वर्मा, बृजेश कुमार प्रजापति सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव की मौजूदगी में पार्टी में शामिल हुए। वहीं अखिलेश यादव ने स्वामी प्रसाद मौर्य का गर्मजोशी के साथ स्वागत किया। इस दौरान मंच पर कई नेता मौजूद दिखे।

मौर्य ने कहा जिसका मैं साथ छोड़ता हूं, उसका कहीं अता-पता नहीं रहता है. हमारी बहन जी ( पूर्व सीएम मायावती) इसका मिसाल हैं। उन्होंने कहा कि मैं जब बसपा में था, वह नंबर 1 थी। बीजेपी नंबर 3 पर थी। मैं बीजेपी में गया तो वह नंबर 1 पर चली गई। मौर्य ने कहा कि 10 मार्च को जब परिणाम आएंगे तो भाजपा फिर से साल 2017 के पुराने आंकड़े पर पहुंच जाएंगी. सपा नेता ने कहा कि अब प्रदेश को बीजेपी के शोषण से मुक्त करने का समय आ गया है।

मौर्य ने कहा कि बीजेपी ने केशव मौर्य और स्वामी मौर्य का नाम उछाल कर सरकार बनाई थी। चर्चा थी कि सीएम होंगे केशव या स्वामी पर हुआ क्या। पहले गाजीपुर से स्काईलैंप उतारने की कोशिश की गई। फिर स्काईलैंप आते-आते बीच में ही ब्लास्ट हो गया। दूसरा स्काईलैंप गोरखपुर से लाकर पिछड़े की आंखों में धूल झोंकी गई। मौर्य ने कहा कि अब लड़ाई 80 और 20 की नहीं है। अब लड़ाई 85 और 15 की है। जो 15% अगड़े हैं उसमें भी हमारी हिस्सेदारी है। क्योंकि उन 15 प्रतिशत में भी कई समाजवादी और अंबेडकरवादी भी हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

13 + seventeen =