Wednesday , May 18 2022

राजस्थान सियासी संकट : CM गहलोत विधानसभा सत्र बुलाने पर अड़े

जयपुर। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने विधानसभा सत्र बुलाने को लेकर तीसरी बार प्रस्ताव भेजा है। लेकिन राज्यपाल कलराज मिश्र ने प्रदेश में कोरोना की भयावह स्थिति पर गहरी चिंता प्रकट की है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में कोरोना के बढ़ते ऐक्टिव केस राज्य के लिए चिंता का विषय है।

मिश्र ने कहा कि प्रदेश में फैलती कोरोना वैश्विक महामारी को देखते हुए स्वतंत्रता दिवस पर होने वाला एट होम इस बार नहीं होगा।
राज्यपाल कलराज मिश्र ने कहा कि 13 मार्च को विधान सभा सदन की कार्यवाही स्थगित की गई थी, तब प्रदेश में ऐक्टिव केसेज की संख्या दो थी। उन्होंने कहा कि उस वक्त कोरोना वैश्विक महामारी के फैलाव को दृष्टिगत रखते हुए राजस्थान विधान सभा के सत्र को स्थगित किया गया था।
राज्यपाल मिश्र ने कहा कि एक जुलाई को ऐक्टिव मराजों की संख्या 3381 थी, जो 28 जुलाई को बढ़कर दस हजार से अधिक हो गई है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में कोरोना का निरन्तर विस्तार गहरी चिंता का विषय है।

प्रदेश में कोरोना की रोकथाम के लिए गभ्भीर प्रयास करने होंगे, तब ही इस वैश्विक महामारी के संकट से राज्य को बचाया जा सकता है। राज्यपाल मिश्र ने प्रदेश में कोरोना की भयावह स्थिति को देखते हुए स्वतंत्रता दिवस की संध्या को प्रत्येक वर्ष होने वाले एट होम की इस बार नहीं किये जाने का निर्णय लेते हुए 15 अगस्त को होने वाले इस समारोह के आयोजन को रद्द कर दिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

1 × 3 =