Wednesday , June 22 2022

फिर हाथरस के लिए रवाना हुए राहुल, DND Flyway पर सुरक्षा सख्त

नई दिल्ली : कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी तीन दिनों में दूसरी बार हाथरस के रवाना हो चुके हैं. उन्होंने ऐलान किया था कि उन्हें हाथरस जाकर पीड़िता के परिजनों से मिलकर उनका दर्द बांटने से कोई नहीं रोक सकता. इसके बाद से ही यूपी पुलिस भी एक्टिव मोड में आ गई है. नोएडा बॉर्डर पर सुरक्षा बढ़ा दी गई है. डीएनडी पर भारी संख्या में पुलिस बल को तैनात किया गया है.

फिर हाथरस के लिए रवाना हुए राहुल, DND फ्लाईवे पर सुरक्षा सख्त

डीएनडी पर तैनात भारी संख्या में पुलिस फोर्स

इसी बीच राहुल गांधी एक बार फिर कांग्रेस सांसदों के साथ हाथरस के लिए दिल्ली से रवाना हो चुके हैं. एक-एक कर कांग्रेस के कार्यकर्ता डीएनडी पहुंचने भी लगे हैं. उनके साथ मौजूद कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने कहा, यदि इस बार नहीं तो, हाथरस में कथित गैंगरेप पीड़िता के परिवार से मिलने के लिए हम फिर से प्रयास करेंगे’. राहुल गांधी और प्रियंका गांधी के साथ करीब 35 सांसदों का डेलीगेशन निकलने की सम्भावना है. ये सभी लोग आज एक बस में दिल्ली से निकलेंगे और नोएडा होते हुए हाथरास जाने का प्रयास करेंगे. उन्हें हाथरस जाने से रोकलने के लिए डीएनडी पर भारी संख्या में पुलिस फोर्स तैनात की गयी है.

टोल प्लाजा पर वाहनों की लंबी कतार लग गयी है. बता दें कि इससे पहले राजधानी लखनऊ में यूपी प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू को हाउस अरेस्ट कर लिया गया है. लखनऊ के बहुखंडी स्थित लल्लू के आवास पर भी भारी पुलिस बल तैनात कर दिया गया है. हालांकि, इस मामले में पुलिस का कहना है कि अजय कुमार लल्लू की सुरक्षा को देखते हुए पुलिसकर्मियों की तैनाती की गई है.

फिर हाथरस के लिए रवाना हुए राहुल, DND Flyway पर सुरक्षा सख्त

कांग्रेस की रणनीति से वाकिफ है जनता – स्मृति

हाथरस जाने पर केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने राहुल गांधी घेरते हुए कहा कि राहुल गांधी पीड़िता के न्याय के लिए नहीं बल्कि राजनीति के लिए हाथरस जा रहे हैं. राहुल गांधी के हाथरस दौरे को देखते हुए दिल्ली-नोएडा डायरेक्ट फ्लाईवे पर सुरक्षा के इंतजाम कड़े कर दिए गए हैं. उन्होंने कहा, ‘जनता कांग्रेस की रणनीति से वाकिफ है… इसलिए उन्होंने 2019 में बीजेपी की जीत सुनिश्चित की.’ उन्होंने कहा, ‘एक लोकतांत्रिक देश में राजनेता को रोक नहीं सकते हैं, लेकिन लोग समझते हैं कि हाथरस का उनका दौरा अपनी राजनीति के लिए है, पीड़िता को न्याय दिलाने के लिए नहीं.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

seventeen − 17 =