Tuesday , June 21 2022

Facebook पर पक्षपात का आरोप, BJP और RSS का Control : राहुल गांधी

नई दिल्ली : फेसबुक प्लेटफार्म पर बीजेपी (BJP) का कंट्रोल होने का दावा किए जाने के बाद, भाजपा और कांग्रेस में आरोप-प्रत्यारोप का सिलसिला जारी है. अमेरिका के अखबार द वॉल स्ट्रीट जर्नल (The Wall Street Journal) ने फेसबुक की निष्पक्षता पर सवाल खड़े करते हुए दावा किया है कि फेसबुक ने भाजपा नेताओं और कुछ समूहों के ‘हेट स्पीच’ (Hate Speech) वाली पोस्ट के खिलाफ कार्रवाई करने में जान-बूझकर लापरवाही बरत रही है.

भाजपा और RSS का फेसबुक और व्हाट्सएप पर है नियंत्रण

कथित रिपोर्ट को आधार बना कर कांग्रेस पार्टी के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने सोमवार को ट्वीट कर बीजेपी पर निशाना साधा था. उन्होंने लिखा कि ‘भाजपा और आरएसएस भारत में फेसबुक और व्हाट्सएप का नियंत्रण करती हैं. इस माध्यम से ये झूठी खबरें व नफ़रत फैलाकर वोटरों को फुसलाते हैं. आख़िरकार, अमेरिकी मीडिया ने फेसबुक का सच सामने लाया है.’

कैंब्रिज एनालिटिका से मिलीभगत में रंगे हाथों पकड़ी गई थी कांग्रेस

वहीं बीजेपी की ओर से जवाब देते हुए केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कैंब्रिज एनालिटिका की याद दिलाकर पलटवार किया. रविशंकर ने हमला करते हुए कहा कि कांग्रेस पार्टी चुनाव में डेटा के इस्तेमाल को लेकर फेसबुक और कैंब्रिज एनालिटिका से मिलीभगत में रंगे हाथों पकड़ी गई थी और अब वह बीजेपी पर ऐसा करने के झूठे आरोप लगा रही है.

उन्होंने लिखा ‘अपनी खुद की पार्टी में भी लोगों को प्रभावित नहीं कर सकने वाले लुसर्स इस बात का हवाला देते रहते हैं कि पूरी दुनिया भाजपा और आरएसएस द्वारा नियंत्रित है. चुनाव से पहले डेटा को हथियार बनाने के लिए आपको कैंब्रिज एनालिटिका और फेसबुक के साथ गठजोड़ करते हुए रंगे हाथों पकड़ा गया था और अब हमसे सवाल कर रहें है?’

घृणा फैलाने वाले भाषण और कंटेंट बैन

इस मामले में फेसबुक के प्रवक्ता ने सोमवार कहा कि पूरे विश्व में हमारी नीतियां एक जैसी हैं. हम किसी की भी राजनीतिक हैसियत/पार्टी की संबद्धता के बिना हम घृणा फैलाने वाले भाषण और कंटेंट को बैन करते हैं. हम निष्पक्षता और सटीकता के लिए लगातार काम कर रहे हैं. इसके लिए नियमित ऑडिट करते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

twenty + 13 =