Saturday , January 22 2022

प्रियंका गांधी जनता से बोलीं- ये देश आपका है, चाहे जितना बड़ा नेता हो, किसी की जागीर नहीं है

कांग्रेस पार्टी की महासचिव और यूपी प्रभारी प्रियंका गांधी गुरुवार को प्रतिज्ञा रैली को संबोधित किया। इस रैली में उन्होंने केंद्र की मोदी और राज्य की योगी सरकार पर जमकर हमला बोला। प्रियंका गांधी ने कहा, पिछले 5-6 सालों में मुरादाबाद में 2 हजार करोड़ रुपए का कारोबार घट गया है। आज 3 लाख कारीगरों की रोज़ी रोटी खत्म हो चुकी है। भाजपा की नीतियों ने कारोबार और आपके भविष्य को बर्बाद कर दिया है।

उच्च शिक्षित युवा नौकरी का इंतजार कर रहे हैं 

प्रियंका गांधी ने कहा, कांग्रेस पार्टी इस चुनाव को सिर्फ विकास के आधार पर लड़ना चाहती है। हमने प्रतिज्ञा ली हैं कि हम 20 लाख रोज़गार दिलवाएंगे। हर ज़िले में हम उद्योगों के हब लगवाएंगे। यह खोखला वचन नहीं है। आपके गन्ने का भुगतान का अभी भी 4 हजार करोड़ रुपए बाकी है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का एक हवाई जहाज जो 8 हजार करोड़ रुपए का है। संसद जो 70 सालों से है उसके सुंदरीकरण के लिए ये लोग 20 हजार करोड़ रुपए खर्च़ कर सकते हैं लेकिन आपका कर्ज़ नहीं दे सकते हैं।

ये देश आपका है, चाहे जितना बड़ा नेता हो, किसी की जागीर नहीं है

प्रियंका गांधा ने आगे कहा कि मैं जहां-जहां जाती हूं, उच्च शिक्षित युवा नौकरी का इंतजार कर रहे हैं। मैं बाल्मीकि कॉलोनी में गई। एक बहन ने घरों में काम करके अपनी बेटी को पढ़ाया लेकिन उसे रोजगार नहीं मिल रहा है। राजनीति की इस सोच को ​बदल दीजिए कि वे फिजूल के मुद्दे उठाएंगे और चुनाव जीत लेंगे। बदलाव आप लाएंगे। आप सब समझदार हैं। राजनीति को विकास पर आधारित बनाओ। ये देश आपका है, चाहे जितना बड़ा नेता हो, किसी की जागीर नहीं है।

प्रियंका गांधा ने अखिलेश पर हमला करते हुए कहा, पिछले पांच साल में अखिलेश जी और उनकी पार्टी कहां थी? जनता पर अत्याचार हो रहा था, जब कांग्रेस सड़कों पर थी, जब हमारे अध्यक्ष जेल में थे, तब वे कहां थे? चुनाव के समय अचानक क्यों आ रहे हैं? सीएए कानून का विरोध करते हुए कई युवकों को मारा गया, लेकिन कार्रवाई नहीं हुई। जनता पर अत्याचार हुआ, अखिलेश यादव दिखाई नहीं पड़े। सपा का नारा है आ रहे हैं अखिलेश। जनता पर अत्याचार के समय वे नहीं आए तो अब क्यों आ रहे हैं?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

1 × two =