पाकिस्तान का यू-टर्न, हमारी ज़मीन पर नहीं है अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद

नई दिल्ली : अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम की कराची में मौजूदगी को लेकर पाकिस्तान एक बार फिर से पलट गया है. पाकिस्तान की तरफ से ये खबर दी गई थी, मुंबई हमले का मास्टरमाइंड दाऊद पाकिस्तान के कराची में है. अपने इस बयान पर पाकिस्तान 12 घंटे भी नहीं टिक पाया. पकिस्तान के विदेश मंत्रालय ने इस खबर को खारिज करते हुए आधिकारित तौर पर बयान देते हुए इस खबर को पूरी तरह से निराधार और भ्रामक बताया है.

1993 में मुंबई सीरियल धमाकों का जिम्मेदार दाऊद पाकिस्तान भाग गया था. इस्लामाबाद लगातार इस बात से इनकार करता रहा है कि उसने दाऊद को शरण दी है. इन धमाकों में 257 लोगों की जान चली गई थी और करीब 1400 लोग घायल हुए थे. भारत कई बार पाकिस्तान से दाऊद इब्राहिम को सौंपने के लिए कह चुका है.

इससे पहले खबर आई थी कि पाकिस्तान ने अंतरराष्ट्रीय आतंकवादी वित्त पोषण पर निगरानी रखने वाली संस्था वित्तीय कार्रवाई कार्य बल (Financial Action Task Force) की ग्रे-लिस्ट से बाहर होने की कोशिशों के तहत एक लिस्ट जारी की थी. इस लिस्ट में हाफिज सईद, मसूद अजहर और दाऊद इब्राहीम का नाम भी शामिल था. उसने 88 प्रतिबंधित आतंकवादी संगठनों और हाफिज सईद, मसूद अजहर और दाऊद इब्राहिम समेत उनके आतंकवादियों पर कड़े वित्तीय प्रतिबंध लगाये थे.

आतंकी संगठनों और उनमें शामिल लोगों की सभी संपत्तियों को जब्त करने और बैंक खातों को सील करने के आदेश दिए गए हैं. जिन आतंकियों पर कार्रवाई की बात कही गई, उनमें आतंकी हाफिज सईद, अजहर मसूद, मुल्ला फजलुल्ला, जकीउर रहमान लखवी, मुहम्मद यह्या मुजाहिद, अब्दुल हकीम मुराद, नूर वली महसूद, उजबेकिस्तान लिबरेशन मूवमेंट के फजल रहीम शाह, तालिबान नेता जलालुद्दीन हक्कानी, खलील अहमद हक्कानी, यह्या हक्कानी और दाऊद इब्राहीम और उसके अन्य सहयोगी शामिल थे.

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

8 − 4 =