Wednesday , May 18 2022

फांसी से पहले मां की याद में रोया मुकेश, आखिरी बार की मुलाकात

7 जनवरी को दिल्ली के पटियाला हाउस कोर्ट ने निर्भया की मां द्वारा दायर की गई याचिका पर सुनवाई करते हुए चारों दोषियों को डेथ वारंट जारी किया था। इसके तहत चारों की फांसी के लिए 22 जनवरी सुबह 7 बजे का समय निर्धारित किया गया है। बता दें कि डेथ वारंट जारी होने के बाद से ही निर्भया के दोषियों को अपनी मौत सामने नजर आने लगी है । जैसे-जैसे फांसी की तारीख नजदीक आ रही है चारों दोषियों की बेचैनी बढ़ती जा रही है। फिलहाल उन्हें जेल संख्या दो के कस्तूरी वार्ड में शिफ्ट कर दिया गया है, जहां वे बाकी कैदियों से बिल्कुल अलग-थलग, एकांत में हैं।

इसी कड़ी में दोषी मुकेश को शनिवार को जेल में अपनी मां की याद आई, जिससे भावुक होकर उसने मां से मिलने की इच्छा जताई थी। सूत्रों के मुताबिक इच्छा व्यक्त करने पर मुकेश को जेल में उसकी मां से मुलाकात कराई गई। दोनों की मुलाकात करीब आधे घंटे तक जेल संख्या दो के अधीक्षक कार्यालय परिसर में हुई।

वही तिहाड़ जेल के प्रवक्ता राजकुमार ने मुलाकात की बात से इनकार किया है। जेल सूत्रों के अनुसार डेथ वारंट जारी होने के बाद से मुकेश काफी परेशान था और उसने अपनी मां से मिलने की इच्छा जताई थी। बताया गया कि डेथ वारंट जारी होने के बाद दोषियों को एक बार परिवार से मिलने की इजाजत होती है।