Thursday , June 23 2022

Mayawati ने की OBC की अलग जनगणना की मांग, केंद्र से बोला समर्थम करें

लखनऊ। बहुजन समाज पार्टी की मुखिया मायावती ने ओबीसी की अलग जनगणना की मांग की है। बसपा सुप्रमी ने इस मुद्दे पर केंद्र सरकार को समर्थन देने की भी बात कही है। यूपी की पूर्व मुख्यमंत्री ने शुक्रवार को कहा कि देश में ओबीसी समाज की अलग से जनगणना कराने की मांग पर केंद्र सरकार अगर कोई सकारात्मक कदम उठाती है तो बसपा संसद के अन्दर व बाहर भी इसका जरूर समर्थन करेगी।

मायावती ने ट्वीट कर कहा, देश में ओ.बी.सी. समाज की अलग से जनगणना कराने की माँग बी.एस.पी. शुरू से ही लगातार करती रही है तथा अभी भी बी.एस.पी. की यही माँग है और इस मामले में केन्द्र की सरकार अगर कोई सकारात्मक कदम उठाती है तो फिर बी.एस.पी. इसका संसद के अन्दर व बाहर भी जरूर समर्थन करेगी।

दरअसल, देश में आखिरी जाति आधारित जनगणना आजादी से पहले साल 1931 में हुई थी। इसी आंकड़े के आधार पर बताया गया है कि देश में ओबीसी आबादी 52 फीसदी है। जाति के आंकड़ों के बिना काम करने में मंडल आयोग को काफी दिक्कत आई और उसने सिफारिश की थी कि अगली जो भी जनगणना हो उसमें जातियों के आंकड़े इकट्ठा किए जायें।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

14 − 2 =