Lucknow : शिक्षा माफियाओं के खिलाफ अभियान की शुरुआत, FIR हुईं दर्ज

Lucknow. लखनऊ क्रिश्चियन कालेज एवं सेन्टीनियल इण्टर कालेज की लगभग 30 हजार करोड़ की सम्पत्ति पर कब्जा करने वाले शिक्षा माफियाओं के विरूद्व दर्ज प्राथमिक सूचना रिर्पोर्टो (एफआईआर) पर तथा मुख्यमंत्री के निर्देश पर मण्डलायुक्त लखनऊ द्वारा संयुक्त शिक्षा निदेशक, लखनऊ मण्डल की अध्यक्षता में गठित तीन सदस्यीय समिति से करायी गई जांच की रिर्पोट पर तत्काल प्रभावी कार्यवाही किए जाने आदि मांगों को लेकर ‘‘शिक्षा माफियाओं से लखनऊ क्रिश्चियन कालेज एवं सेन्टीनियल इण्टर कालेज मुक्त कराओ अभियान‘‘ के पहले चरण में दिनांक 21 अप्रैल, 2022 को लखनऊ किश्चियन कालेज एवं सेन्टीनियल इण्टर कालेज के शिक्षक एवं शिक्षणेत्तर कर्मी तथा जिला संगठन के पदाधिकारी संयुक्त रूप से शहीद स्मारक स्थल से मण्डलायुक्त कार्यालय तक सायं 04.30 बजे शान्ति मार्च निकालेंगे।

शिक्षक नेताओं ने बताया कि शिक्षा माफियाओं एवं डिप्टी रजिस्ट्रार चिटस फण्ड एवं सोसाइटीज, विनय कुमार श्रीवास्तव की सांठ-गांठ से फर्जी अभिलेखों के आधार पर लालबाग गर्ल्स इण्टर कालेज की प्रधानाचार्या अर्णिमा रिसाल सिंह को लखनऊ किश्चियन कालेज एवं सेन्टीनियल इण्टर कालेज का प्रबन्धक बना दिया गया जिसे जिला विद्यालय निरीक्षक ने मान्य नही किया। इसके बावजूद तथाकथित प्रबन्धक अर्णिमा रिसाल सिंह और उनके साथ गुण्डे और माफियाओं ने दिन दहाडे़ विधिक प्रबन्धक डा0 (प्रो0) आर0आर लायल के कमरें का ताला तोडकर महत्वपूर्ण अभिलेख उठा ले गए और विद्यालय में कब्जा कर लिया जिसके विरूद्व विद्यालय के विधिक प्रबन्धक डा0 प्रो0 आर0आर0 लायल ने दि0 04.08.2021 को वजीरगंज थाने में धारा 395 डकैती की रिपोर्ट सं0 251 दर्ज कराई लेकिन आज तक कोई कार्यवाही नही की गई।

शिक्षक नेताओं ने बताया कि जिला संगठन एवं विद्यालय के विधिक प्रबन्धक के ज्ञापनों का संज्ञान लेते हुए मा0 मुख्यमंत्री ने मण्डलायुक्त, लखनऊ को आवश्यक कार्यवाही के निर्देश दिए थे। मण्डलायुक्त लखनऊ ने दि 14 अक्टूबर, 2021 को संयुक्त शिक्षा निदेशक, लखनऊ मण्डल की अध्यक्षता में तीन सदस्यीय जांच समिति गठित कर दो दिवसों में आख्या मांगी थी किन्तु संयुक्त शिक्षा निदेशक ने लगभग 05 माह में मण्डलायुक्त को जांच रिपोर्ट प्रेषित की । लगभग एक माह से अधिक समय बीत जाने के बाद भी कोई कार्यवाही नही की गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

five × four =