किम जोंग ने अन्य देशों से किसी भी प्रकार की मदद लेने से किया इनकार

kim jong refuse help other countries

kim jong refuse help other countries

सियोल : उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग उन ने कोरोना वायरस संक्रमण को काबू करने के लिए दक्षिण कोरिया के साथ लगती सीमा के निकट बड़े शहर काएसोंग में लगा लॉकडाउन हटा दिया है। कोरोना वायरस संक्रमण संबंधी चिंताओं के कारण इस शहर में कई सप्ताह से हजारों लोगों को पृथक-वास में रखा गया था।

देश की आधिकारिक संवाद समिति ने बताया कि किम ने सत्तारूढ़ पार्टी की बृहस्पतिवार को हुई बैठक में काएसोंग से लॉकडाउन हटाने की घोषणा की, लेकिन उन्होंने साथ ही इस बात पर भी जोर दिया कि उत्तर कोरिया अपनी सीमाओं को बंद रखेगा और उन्होंने अन्य देशों से किसी भी प्रकार की मदद लेने से इनकार कर दिया। उत्तर कोरिया ने कोरोना वायरस से निपटने के लिए आक्रामक रुख अपनाया है। उन्होंने लॉकडाउन में सहयोग करने के लिए काएसोंग निवासियों का आभार व्यक्त किया।

उत्तर कोरिया में जुलाई में एक व्यक्ति के संक्रमित होने के संदेह बाद किम ने काएसोंग में पूर्ण लॉकडाउन के आदेश दिए थे। उत्तर कोरिया की सरकारी मीडिया ने कहा था कि संदिग्ध मरीज उत्तर कोरिया का रहने वाला है, जो पहले दक्षिण कोरिया चला गया था और फिर काएसोंग लौट आया था। दक्षिण कोरिया के स्वास्थ्य अधिकारियों का कहना है कि यह व्यक्ति दक्षिण कोरिया में संक्रमित नहीं पाया गया था। बाद में उत्तर कोरिया ने कहा था कि उस व्यक्ति की जांच के परिणाम बेनतीजा निकले हैं और वह संक्रमणमुक्त है।
आर्थिक मामलों में कैबिनेट के प्रदर्शन के आकलन के बाद कैबिनेट प्रीमियर को बदला

किम ने आर्थिक मामलों में कैबिनेट के प्रदर्शन के आकलन के बाद किम जाए रियोंग को हटाकर किम टोक हुन को कैबिनेट प्रीमियर नियुक्त किया। केसीएनए ने बताया कि किम ने बैठक में कहा कि तीन सप्ताह बाद यह स्पष्ट है कि काएसोंग में संक्रमण संबंधी स्थिति स्थिर है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *