Monday , January 24 2022

डेंगू- मलेरिया से जंग लड़ने को तैयार लखनऊ , घर-घर जाएगी टीम, मुफ्त होगा इलाज

Lucknow. राजधानी लखनऊ में डेंगू- मलेरिया के बढ़ते मामलों के बीच स्वास्थ्य विभाग ने रोकथाम के लिए कमर कस ली है। विभाग 18 अक्टूबर से पूरे लखनऊ में डेंगू-मलेरिया पर नियंत्रण पाने का विशेष अभियान चलाने जा रहा है। जिसके तहत घर-घर जाकर स्वास्थ्य विभाग की टीम डेंगू-मलेरिया के मरीजों की खोज करेगी। मरीज मिलने उन्हें अस्पताल ले जाया जाएगा। ताकि इनका इलाज ठीक से हो सके।

बता दें कि राजधानी में डेंगू-मलेरिया का प्रकोप लगातार बढ़ रहा है। यहां अबतक डेंगू के 500 से अधिक मरीज सामने आ चुके हैं। ज्यादातर अस्पतालों के डेंगू वार्ड मरीजों से फुल चल रहे हैं। ऐसे हालात बद से बदतर होते जा रहे हैं। जिसे देखते हुए ये अभियान चलाया जाएगा। डेंगू -मलेरिया के जो भी मरीज मिलते हैं उनका इलाज मुफ्त में कराया जाएगा।

वेक्टरजनित रोगों के प्रभारी डा. केपी त्रिपाठी ने बताया कि सोमवार से चलने वाले इस अभियान में जिस भी घर में बुखार के मरीज मिलेंगे उनमें डेंगू और मलेरिया की भी जांच कराई जाएगी। उन्होंने बताया कि 18 अक्टूबर से चलने वाीले इस अभियान में आशाओं व एएनएम की भी मदद ली जाएगी।

इन इलाके में मिले मामले-

राजधानी के अलीगंज, टूडियागंज, फैजुल्लागंज, ऐशबाग, त्रिवेणी नगर, आलमबाग, आलमनगर, इंदिरानगर, चिनह्ट, गोमती नगर, सिल्वर जुबली, न्यू हैदराबाद, पुराना लखनऊ इत्यादि इलाकों में डेंगू के ज्यादा मरीज मिल रहे हैं। अब हालत यह है कि हर तीसरे चौथे घर में कोई न कोई मरीज डेंगू से पीड़ित है। एंटीलार्वा का छिड़काव और फॉगिंग व्यवस्था पूरी तरह ध्वस्त है। इसलिए मच्छरों की फौज लगातार बढ़ रही है। बारिश के बाद से डेंगू-मलेरिया के केस दोगुने से ज्यादा हो गए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

two × 1 =