Wednesday , June 22 2022

GT vs LSG IPL 2022: गुजरात की बल्लेबाजी जारी

नई दिल्ली । पुणे के महाराष्ट्र क्रिकेट एसोसिएशन स्टेडियम पर आइपीएल 2022 के 57वें लीग मैच में लखनऊ सुपर जाइंट्स का सामना गुजरात टाइटंस के साथ हो रहा है। इस मैच में जिस टीम को जीत मिलेगी वो इस सीजन में प्लेआफ में पहुंचने वाली पहली टीम बन जाएगी। इस मुकाबले में गुजरात के कप्तान हार्दिक पांड्या ने टास जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया। गुजरात ने पहली पारी में बल्लेबाजी करते हुए खबर लिखे जाने तक 2 ओवर में 7 रन बना लिए हैं।

लखनऊ की टीम में एक बदलाव, गुजरात ने किए तीन परिवर्तन

इस मुकाबले के लिए केएल राहुल ने अपनी टीम में एक बदलाव करते हुए रवि बिश्नोई की जगह टीम में करन शर्मा को मौका दिया। वहीं हार्दिक पांड्या ने अपनी प्लेइंग इलेवन में तीन बदलाव किए और लाकी फर्ग्यूसन, साई सुदर्शन और प्रदीप सांगवान को प्लेइंग इलेवन से बाहर कर दिया गया। इन तीनों की जगह टीम में मैथ्यू वेड, साई किशोर और यश दयाल को मौका दिया गया।

गुजरात टाइटंस की प्लेइंग इलेवन

रिद्धिमान साहा (विकेटकीपर), शुभमन गिल, मैथ्यू वेड, हार्दिक पांड्या (कप्तान), डेविड मिलर, राहुल तेवतिया, राशिद खान, रवि श्रीनिवासन साई किशोर, अल्जारी जोसेफ, यश दयाल, मोहम्मद शमी।

लखनऊ सुपर जाइंट्स की प्लेइंग इलेवन

क्विंटन डी काक (विकेटकीपर), केएल राहुल (कप्तान), दीपक हुडा, क्रुणाल पांड्या, आयुष बदोनी, मार्कस स्टोइनिस, जेसन होल्डर, करण शर्मा, दुष्मंथा चमीरा, अवेश खान, मोहसिन खान।
हार्दिक पांड्या की कप्तानी में गुजरात अब तक 11 में से 8 मैच जीतकर 16 अंक के साथ दूसरे नंबर पर मौजूद है तो वहीं केएल राहुल की कप्तानी में लखनऊ की टीम ने भी 11 में से 8 मैच जीते हैं और ये टीम भी 16 अंक के साथ पहले स्थान पर मौजूद है। दोनों टीमों को प्लेआफ में पहुंचने के लिए एक जीत की दरकार है।

लखनऊ की बात करें तो इस टीम के गेंदबाज अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं। पंजाब किंग्स के खिलाफ जहां उन्होंने 153 रन का अच्छी तरह से बचाव किया वहीं केकेआर को 101 रन ही बनाने दिए थे। इस मैच में तेज गेंदबाज आवेश खान और जैसन होल्डर ने शानदार प्रदर्शन किया था। तेज गेंदबाज मोहसिन खान, क्रुणाल पांड्या और श्रीलंका के दुशमंता चमीरा ने किफायती गेंदबाजी की है। रवि बिश्नोई हालांकि पिछले मैच में थोड़े महंगे साबित हुए थे। जहां तक गुजरात का सवाल है तो उसने मुश्किल परिस्थितियों में वापसी करके अपनी स्थिति मजबूत की। उसके अलग-अलग खिलाडि़यों ने अब तक मैच विजेता की भूमिका निभाई है, लेकिन मुंबई के खिलाफ ऐसा नहीं हुआ जब वे आखिरी ओवर में नौ रन नहीं बना पाए थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

2 + twenty =