विद्युत् विभाग की लापरवाही, हाईटेंशन तार की चपेट में आकर झुलसे 2 युवक

सुल्तानपुर : जनपद में विद्युत विभाग महकमें पर सालों से सवालिया निशान खड़ा रहता है। कई बार विद्युत विभाग के संविदा कर्मी  हाईटेंशन तार की चपेट में आकर अपनी जान गवा देते हैं,  और सेफ्टी शूज और सेफ्टी किट ना होने की वजह से उन्हें अपनी जान गंवानी पड़ती है।  तो वहीं दूसरी तरफ आम जनता विद्युत विभाग के कामकाज से काफी नाराज है।

हाईटेंशन लाइट की चपेट में आने से झुलसे युवक

ताजा मामला जनपद के देहात कोतवाली क्षेत्र के दुबेपुर गांव से जुड़ा है जहां दो युवक शहर की ओर आ रहे थे तभी गांव में ही आटे की चक्की के पास जैसे ही पहुंचे तो 11000 का हाईटेंशन तार उनके गाड़ी में टच हो गया जिससे दोनों युवक 11,000 की हाईटेंशन लाइट के चपेट में आकर दोनों युवक झुलस गए।

कई बार कर चुके हैं शिकायत

आनन-फानन में  ग्राम प्रधान अरविंद कुमार वर्मा ने उन्हें जिला अस्पताल लाकर भर्ती कराया जहां डॉक्टरों ने तुरंत ही उनका इलाज चालू कर दिया तो वहीं दूसरी तरफ परिवार के लोगों ने और ग्राम प्रधान ने बताया ट्रांसपोर्ट नगर के जेई से कई बार तार लटकने की शिकायत कर चुके हैं जिसमें कई बार जेई ने तार मरम्मत कराने की बात भी कही लेकिन सालों से लटके हुए तार की आज तक मरम्मत नहीं हुई।

सांसद ने लगाईं विद्युत विभाग के कर्मचारियों को फटकार

हादसे में कोई हताहत तो नहीं हुआ लेकिन ग्राम प्रधान और स्थानीय निवासियों का  बताया है कि आए दिन बेजुबान जानवर समेत कई ग्रामीण तार की चपेट में आ चुके हैं हालांकि तार के चपेट में आने के बाद कोई ग्रामीण हताहत तो नहीं लेकिन बुरी तरीके से उलझ जाता है।
जहां सुल्तानपुर की सांसद ने विद्युत विभाग के कर्मचारियों को जमकर फटकार लगाई थी तो वही  सांसद मेनका गांधी की फटकार सांसद और जिला अधिकारी समेत कई आला अधिकारियों कोई डर नहीं विद्युत विभाग के मातहत कर्मचारियों पर अब देखने वाली बात या होगी इस मामले में अधीक्षण अभियंता धीरज सिन्हा क्या कार्रवाई करते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

17 − 8 =