दिल्ली में ऑक्सीजन की किल्लत के मुख्य दोषी हरियाणा और उत्तर प्रदेश प्रशासन

नई दिल्ली। ऑक्सीजन की किल्लत पर अब राजनीतिक घमासान शुरू हो गया है। दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर दिल्ली के ऑक्सीजन की किल्लत के लिए मुख्य रूप से हरियाणा और उत्तर प्रदेश प्रशासन को जिम्मेदार ठहराया है। दिल्ली के डिप्टी सीएम का आरोप है कि आज दिल्ली में चारों तरफ ऑक्सीजन की त्राही इसलिए मची हुई है क्योंकि हरियाणा और उत्तर प्रदेश ने ऑक्सीजन को लेकर जंगलराज मचा रखा है। वहां की सरकारें, अधिकारी, पुलिस वहां के ऑक्सीजन प्लांट से दिल्ली के लिए ऑक्सीजन नहीं निकलने दे रहे हैं। केंद्र सरकार इसमें हस्तक्षेप करे

डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने कहा, जब केंद्र सरकार ने दिल्ली का ऑक्सीजन का आवंटन बढ़ा दिया है तो हरियाणा और उत्तर प्रदेश की सरकारें इस तरह का व्यवहार क्यों कर रही हैं जैसे दिल्ली का उत्तर प्रदेश और हरियाणा से झगड़ा है। उन्होंने बताया कि दिल्ली के कई अस्पतालों में ऑक्सीजन पूरी तरह खत्म हो गई है। सरोज, राठी, शांति मुकुंद, तीरथ राम अस्पताल, यूके अस्पताल, जीवन अस्पताल का कहना है कि हमारे यहां ऑक्सीजन खत्म हो गई है। हम जैसे-तैसे उन्हें ऑक्सीजन सिलेंडर देने की कोशिश कर रहे हैं

Leave a Reply

Your email address will not be published.

5 × 4 =