Wednesday , May 18 2022

यूपी की महिला शिक्षक को राहत, कोरोना सर्वे में इनकी नहीं लगेगी ड्यूटी

लखनऊ। कोरोना सर्वे में लगे बीमार व बुजुर्ग शिक्षकों को बेसिक शिक्षा विभाग ने राहत दी है। बुधवार को हिन्दुस्तान अखबार में खबर प्रकाशित होने के बाद बीएसए ने सभी खंड शिक्षा अधिकारियों को निर्देश जारी किए हैं कि वह बीमार, बुजुर्ग व गर्भवती शिक्षिकाओं की ड्यूटी कोरोना सर्वे में न लगाए। इसके अलावा जो शिक्षक काफी समय से सर्वे में लगे हैं। उनकी जगह दूसरे शिक्षकों की ड्यूटी लगाई जाए।

परिषदीय स्कूलों में तैनात शुगर व दूसरी बीमारियों से ग्रस्ति शिक्षकों की ड्यूटी कोरोना सर्वे में लगाए जाने की खबर आपके अपने हिन्दुस्तान अखबार ने प्रमुखता से प्रकाशित की थी। इसके बाद बीएसए ने बुधवार को सभी खंड शिक्षा अधिकारियों के साथ बैठक कर कोरोना सर्वे में लगे शिक्षकों से जुड़े दिशा निर्देश जारी किए। बीएसए दिनेश कुमार ने बताया कि शिक्षकों की ड्यूटी 15 दिन के रोस्टर के हिसाब से लगाई जाएगी। हर 15 दिन पर शिक्षकों को बदला जाएगा।

इसके अलावा बीमार शिक्षक व गर्भवती शिक्षिकाओं को कोरोना सर्वे ड्यूटी से दूर रखा जाएगा। इसके उन्होंने बीमार शिक्षकों की ड्यूटी लगाए जाने पर खंड शिक्षा अधिकारियों को फटकार भी लगाई। बीएसए ने बताया कि शिक्षकों की ड्यूटी उनके घर के करीब लगाए जाने के निर्देश भी दिए गए हैं। बीएसए ने बताया  गुरूवार को सर्वे में लगाए जाने वाले दूसरे शिक्षकों की सूची जारी कर दी जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

13 + two =