Saturday , January 22 2022

शाहजहांपुर को CM योगी ने दिया 269 करोड़ की 131 विकास परियोजनाओं का तोहफा

Shahjahanpur. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ मंगलवार को उत्तर प्रदेश के शाहजहांपुर जनपद पहुंचे। यहां उन्होंने 269 करोड़ की 131 विकास परियोजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास किया। कार्यक्रम में सभा को संबोधित करते हुए सीएम योगी ने कहा, शाहजहांपुर की जब बात आती है, तो आजादी के महान क्रान्तिकारी पंडित राम प्रसाद बिस्मिल, ठाकुर रोशन सिंह, अशफाक उल्ला खां का नाम प्रत्येक भारतीय बड़े गर्व के साथ लेकर भारत की आजादी के इन दीवानों को नमन करता है।

 

कहीं दुश्मन देश नाराज न हो जाए- सीएम योगी

मुख्यमंत्री ने कहा, एक भारत वो था जहां सरकारों को गांव, गरीब, नौजवान, किसान की चिंता नहीं थी, जब दुश्मन देश आंख दिखाता था तो सरकारें बोलती थीं कि कुछ मत बोलो कहीं दुश्मन देश नाराज न हो जाए। नया भारत को दुश्मन देश आंख दिखाता है, तो आज भारत उसकी आंख हथेली पर रखने का काम करता है। 2017 के पहले पर्व और त्योहार के समय दंगे शुरू हो जाते थे। प्रशासन के फरमान जारी होते थे। 12 बजे के बाद होली नहीं खेलोगे। दीपावली पर रात 9 बजे के बाद आतिशबाजी करने पर पाबंदी लग जाती थी। सावन माह में कांवड़ यात्रा निकालने पर पाबंदी थी।

सीएम योगी ने कहा कि श्री कृष्ण जन्माष्टमी पर कहा जाता था कि थानों, जेलों में जन्माष्टमी नहीं मनाई जाएगी। अयोध्या जाने के नाम पर लोग ऐसा घबराते थे कि न जाने उन्हें वहां जाने पर क्या हो जाएगा। आज आपने देखा कि पर्व और त्योहार कितने शांतिपूर्ण तरीके से मनाए जा रहे हैं। हमने दंगाइयों को संदेश दिया कि दंगा करोगे तो सात पीढ़ियों तक जुर्माना भरते-भरते थक जाओगे, इसलिए दंगा करना भूल जाओ। आज किसी पर झूठे मुकदमे दर्ज नहीं होते हैं, आज विकास के कार्य हो रहे हैं।

सीएम योगी ने कहा कि 2017 से पहले सरकार की योजनाओं का लाभ जनता को नहीं मिलता था, सिर्फ एक खानदान को मिलता था। पहले अयोध्या में दीपोत्सव नहीं होता था बल्कि सैफई में नाच-गाना होता था। पिछली सरकारों में जो अपराधी लोगों की कमाई, उनकी जमीन छीनते थे, आज उन सभी की छाती पर बुलडोजर चल रहा है। दंगाई भी शांत हैं, उन्हें मालूम है कि अगर दंगा किया तो उनकी पुश्तें भी उसकी भरपाई नहीं कर पाएंगी। आज अपराधी गले में तख्ती लटकाकर अपनी जान की अमान मांग रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

twelve + seventeen =