Tuesday , June 28 2022

मायावती का सपा पर हमला, बोलीं- सोच स्वार्थी है ये पार्टी

लखनऊ। उत्तर प्रदेश विधान सभा चुनाव नंजदीक आ रहे हैं। ऐसे में नेताओं के बीच जुबानी जंग तेज हो गई है। आपको बता दें कि समाजवादी पार्टी ने ऐलान किया है कि वह इस बार छोटे दलों के साथ मिलकर चुनाव लड़ेगी। वहीं सपा के इस ऐलान पर अब बहुजन समाज पार्टी की मुखिया मायावती ने तंज कसा है। बसपा सुप्रीमो ने कहा है कि, सपा की सोच स्वार्थी, संकीर्ण और दलित विरोधी है। इसलिए बड़े दलों ने सपा से किनारा कर लिया है। उन्होंने आगे कहा कि छोटे दलों के साथ चुनाव लड़ना सपा की महालाचारी है।

मायावती ने ट्वीट कर कहा, समाजवादी पार्टी की घोर स्वार्थी, संकीर्ण व खासकर दलित विरोधी सोच एवं कार्यशैली आदि के कड़वे अनुभवों तथा इसकी भुक्तभोगी होने के कारण देश की अधिकतर बड़ी व प्रमुख पार्टियां चुनाव में इनसे किनारा करना ही ज़्यादा बेहतर समझती हैं, जो सर्वविदित है।

उन्होंने अपनेट्वीट में कहा, इसीलिए आगामी यूपी विधानसभा आमचुनाव अब यह पार्टी किसी भी बड़ी पार्टी के साथ नहीं बल्कि छोटी पार्टियों के गठबंधन के सहारे ही लड़ेगी। ऐसा कहना व करना सपा की महालाचारी नहीं है तो और क्या है?

गौरतलब है कि सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने अपने 48वें जन्मदिवस पर ऐलान किया था कि वह छोटे दलों के साथ गठबंधन करेंगे और चुनाव में जीत हासिल करेंगे। इसके साथ ही उन्होंने बीजेपी पर निशाना भी साधा। अखिलेश ने कहा कि बीजेपी असल मुद्दों पर बहस से भागती है. बेरोजगारी, महंगाई के विषयों पर बात नहीं करती।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

12 + seven =