Thursday , June 23 2022

आपसी गुटबाजी में फंसी कांग्रेस और पंजाब में गहरा गया बिजली का संकट- मायावती

लखनऊ। बहुजन समाज पार्टी की मुखिया मायावती ने पंजबा में गहराए बिजली संकट पर राज्य सरकार पर हमला बोला है। बसपा सुप्रीमो ने कहा कि, पंजाब में बिजली के गंभीर संकट से आमजन-जीवन, उद्योग-धंधे व खेती-किसानी आदि बुरी तरह से प्रभावित, जो यह साबित करता है कि वहां की कांग्रेस सरकार आपसी गुटबाजी, खींचतान व टकराव आदि में उलझकर जनहित व जनकल्याण की ज़िम्मेदारी को तिलांजलि दे चुकी है, जिसका जनता को संज्ञान लेना ज़रूरी।

मायावती ने कहा है कि पंजाब के बेहतर भविष्य व राज्य में वहां के लोगों की भलाई इसी में निहित है कि वे कांग्रेस पार्टी की सरकार से मुक्ति पाएं तथा आगामी विधानसभा आमचुनाव में शिरोमणि अकाली दल व बसपा गठबंधन की पूर्ण बहुमत वाली लोकप्रिय सरकार बनाना सुनिश्चित करें, ऐसी मेरी सभी से गुज़ारिश।

बता दें कि पंजाब में बिजली संकट गहराता जा रहा है। तलवंडी साबो पावर ग्रिड फ़ेल होने और पेडी सीज़न में बिजली की ज़्यादा खपत होने के कारण समस्या बढ़ गई है। इस समस्या को दूर करने के लिए सरकार ने सरकारी और निजी दफ्तरों में तीन दिन के लिए एसी और बिजली संयंत्र बंद रखने की अपील की है। अभी पंजाब में 14,500 मेगावाट बिजली की डिमांड है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

thirteen − three =