Wednesday , June 29 2022

तो क्या ब्लैक फंगस से ज्यादा घातक है व्हाइट फंगस, देखें क्या है डॉक्टरों का कहना

भारत में कोरोना वायरस के बाद अब ब्लैक फंगस दस्तक दे दी है। राज्यों में इसके मामले तेजी से फैल रहे हैं। कई राज्यों में इसे महामारी घोषित किया जा चुका है। लेकिन हैरानी की बात ये है कि ब्लैक फंगस के साथ- साथ व्हाइट फंगस भी तेजी से फैल रहा है। ऐसे में लोगों की चिंता बढ़ा गई है। आइए जानते हैं कि व्हाइट फंगस क्या है और इसे कैसे पहचाना जा सकता है।

symptoms of black fungus disease who is at greater risk and what are the  ways to avoid it pkj | ब्लैक फंगस बीमारी के क्या है लक्षण, किनको है ज्यादा  खतरा और

आपको बता दें कि व्हाइट फंगस के कुछ मामले बिहार में पाए गए थे। लेकिन पीएमसीएच की तरफ से उन दावों को गलत बता दिया गया है। इसमें कहा गया है कि व्हाइट फंगस कोई बड़ी बीमारी नहीं है। बल्कि ये एक ‘candidiasis’ नाम का इंफेक्शन है जो काफी आम है और जिसका इलाज भी आसानी से किया जा सकता है।

White Fungus Infection, Its Symptoms, Causes, Contributing Factors, Risk  Against Black Fungus; Here's We Know So Far

इसपर डॉक्टर्स का कहना है कि Candidiasis का इलाज काफी आसानी से किया जा सकता है। वहीं ज्यादातर मामलों में ये इंफेक्शन जानलेवा भी नहीं होता है। इस बारे में डॉक्टर कपिल बताते हैं कि Candidiasis को आसानी से पहचाना जा सकता है। ये बस तभी खतरनाक साबित हो सकता है जब मरीज अपने अंदर दिख रहे तमाम लक्षणों को पूरी तरह से नजरअंदाज कर दें।

White Fungus 'More Dangerous' than Black Fungus, Check Symptoms Here -  Sentinelassam

ब्लैक फंगस

ब्लैक फंगस आंखों और फेफड़ों को मुख्य रूप से निशाना बनाता है, व्हाइट फंगस में सिर दर्द, चेहरे के एक तरफ दर्द, सूजन, आंखों के विजन का कमजोर पड़ना और मुंह में छाले जैसे लक्षण दिखाई पड़ सकते हैं। कहा गया है कि candidiasis का सबसे ज्यादा असर नाक, होठ और मुंह के अंदर देखने को मिलता है। ब्लैक फंगस कोरोना से ठीक हो रहे मरीजों को अपना शिकार बना रहा है।

व्हाइट फंगस

व्हाइट फंगस ब्लैक फंगस से ज्यादा खतरनाक नहीं है। अभी के लिए ऐसे कोई सबूत नहीं मिले हैं जो इस मामूली से इंफेक्शन को ज्यादा खतरनाक बना दें। ऐसे में व्हाइट फंगस को ब्लैक फंगस से ज्यादा खतरनाक बताना गलत है और इसको लेकर ज्यादा चिंता करने की भी जरूरत नहीं है। डॉक्टरों ने साफ कर दिया है कि ये एक आम इंफेक्शन है जिसकी दवाई भी मौजदू है और जिसका इलाज भी समय रहते किया जा सकता है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

fifteen − 13 =