Thursday , June 23 2022

दीपिका की फिल्म के बहिष्कार से भाजपा ने किया किनारा

अभिनेत्री दीपिका पादुकोण के जेएनयू जाने को लेकर उठे विवाद के बीच सूचना प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि सिर्फ कलाकार ही क्यों, कोई भी आम आदमी अपने विचार प्रकट करने के लिए कहीं भी जा सकता है और इसमें कहीं कोई आपत्ति नहीं हो सकती।

केंद्रीय मंत्रिमंडल की बैठक के बाद जावड़ेकर ने संवाददाताओं के सवाल के जवाब में कहा कि यह लोकतांत्रिक देश है। कोई कलाकार ही क्यों, कोई भी सामान्य व्यक्ति कहीं जा सकता है, अपनी राय रख सकता है। इसमें कोई आपत्ति नहीं, कभी किसी ने आपत्ति की भी नहीं। इस बारे में कई सवालों के जवाब में उन्होंने कहा कि मैं भाजपा का मंत्री भी हूं और प्रवक्ता भी और मैं यह बात कह रहा हूं।

जावड़ेकर ने एक अन्य सवाल के जवाब में कहा कि देश के किसी हिस्से में कहीं भी हिंसा हो, तब हम उसकी भर्त्सना करते हैं। हमारा परिपक्व लोकतंत्र है और सभी को अपनी राय रखने का अवसर है। इसलिए हिंसा का देश में कोई स्थान नहीं है।

दरअसल बीते रविवार को जेएनयू में हुई हिंसा के खिलाफ छात्रों के विरोध प्रदर्शन को समर्थन देने अभिनेत्री दीपिका पादुकोण मंगलवार को देर शाम अचानक जेएनयू कैंपस पहुंचीं। उन्होंने इस दौरान छात्रसंघ अध्यक्ष आईशी समेत अन्य छात्रों से बात की। हालांकि उन्होंने छात्रों के प्रदर्शन को संबोधित नहीं किया।

छपाक फिल्म के बायकाट की अपील

छात्रों के विरोध प्रदर्शन में शामिल होने के बाद दिल्ली भाजपा के प्रवक्ता तेजिंदर बग्गा ने दीपिका के प्रदर्शनकारियों को समर्थन देने पर नाराजगी जताई। उन्होंने आम लोगों से दीपिका की आने वाली फिल्म ‘छपाक’ का बायकाट करने की अपील की। इसके बाद देखते ही देखते सोशल मीडिया पर दीपिका की फिल्म के बहिष्कार अभियान शुरू हो गया।