Wednesday , January 19 2022

माता अन्नपूर्णा की 150 साल पहले गायब हुई मुर्ति कनाडा में मिली, काशी लाकर होगी स्थापना

Varanasi. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बुधवार को ‘माता अन्नपूर्णा देवी यात्रा व काशी विश्वनाथ धाम के परिसर में प्राण-प्रतिष्ठा’ के संबंध में प्रेसवार्ता की। इस दौरान सीएम योगी ने कहा, 100 साल पहले काशी से मां अन्नपूर्णा की मूर्ति चोरी हुई थी। यहां से यह मूर्ति अलग-अलग हाथों में पहुंचते-पहुंचते कनाडा के विश्वविद्यालय में पहुंची थी। अब यह मूर्ति उत्तर प्रदेश को 11 नवंबर को दिल्ली में प्राप्त होगी।

पीएम योगी ने कहा, 11 नवंबर को हम मां अन्नपूर्णा की मूर्ति दिल्ली से शोभा यात्रा के माध्यम से उत्तर प्रदेश लाएंगे। 11,12,13 और 14 नवंबर को यह यात्रा प्रदेश मे चलती रहेगी। यात्रा के दौरान अलग-अलग ज़िलों के प्रभारी मंत्री मूर्ति की अगवानी करेंगे। सीएम योगी ने कहा, 11 नवंबर को मां अन्नापूर्णा की मूर्ति को दिल्ली से एक शोभायात्रा के माध्यम से प्रदेश में लेकर आएंगे। शोभायात्रा दिल्ली से गाजियाबाद, गौतमबुद्ध नगर, बुलंदशहर, अलीगढ़, हाथरस होते हुए काशी पहुँचेगी।
पहला विश्राम कासगंज के सोरो तीर्थ स्थल पर होगा।

सीएम योगी ने जानकरी दी कि 12 नवंबर को यात्रा सोरो से प्रारंभ होगी और एटा, मैनपुरी, कन्नौज, कानपुर नगर में आकर विश्राम करेगी। 13 नवंबर को उन्नाव, लखनऊ, बाराबंकी, अयोध्या में श्रीरामजन्मभूमि में यह मूर्ति आएगी, रात्रि विश्राम अयोध्या में रहेगा। वहीं, 14 नवंबर को अयोध्या, सुलतानपुर, प्रतापगढ़, जौनपुर होकर मूर्ति काशी पहुंचेगी। शोभायात्रा चार दिन की होगी । 15 नवंबर को देवोत्थान एकादशी है। इस अवसर पर काशी में बाबा विश्वनाथ धाम में मां अन्नापूर्णा की मूर्ति की स्थापना का कार्य संपन्न होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

sixteen − 11 =