यह स्मार्टफोन भारत में दबदबा बरकरार, बना टॉप ब्रांड

नई दिल्ली:-  रिसर्च फर्म इंटरनेशनल डाटा कॉरपोरेशन (IDC) के अनुसार, भारत के स्मार्टफोन शिपमेंट में लगातार तीसरी तिमाही में सालाना आधार पर 5 प्रतिशत की गिरावट आई है, जिसमें विक्रेताओं ने 2022 की पहली तिमाही में 3.7 करोड़ स्मार्टफोन यूनिट की शिपिंग की है। हालांकि Xiaomi के शिपमेंट में साल-दर-साल (YoY) 18 प्रतिशत की गिरावट आई। लेकिन ऑनलाइन चैनल में इसका दबदबा 32 फीसदी हिस्सेदारी के साथ बना रहा, जिसमें इसके सब-ब्रांड POCO भी शामिल है। जिस कारण यह ब्रांड अभी भी टॉप पर बना हुआ है। बता दें कि 5G सेगमेंट में Xiaomi दूसरे स्थान पर है।
वहीं सैमसंग ने अपना दूसरा स्थान हासिल किया, हालांकि 2022 की पहली तिमाही में इसमें 5 प्रतिशत की गिरावट देखी गई लेकिन गैलेक्सी S 22 सीरीज के लिए शुरुआती तिमाही में खासकर ऑफलाइन चैनल में प्रभावशाली प्री-बुकिंग के साथ मजबूत मांग देखी गई। इसने 5G सेगमेंट में भी 29 प्रतिशत हिस्सेदारी के साथ अपनी बढ़त बनाए रखी, जिसमें प्रमुख मॉडल गैलेक्सी M32 और गैलेक्सी A22 हैं।

अगर Realme की बात करें तो वह भले ही तीसरे स्थान पर था, लेकिन यह टॉप 5 में 46 प्रतिशत की बढ़ोतरी दर्ज करने वाले एकमात्र विक्रेता के रूप में सामने आया था। वीवो इस लिस्ट में चौथे नंबर पर था, जिसमें साल दर साल आधार पर 17 फीसदी की गिरावट आई थी। उम्मीद की जा रही है कि इसकी नई T सीरीज के लॉन्च और इसके उप-ब्रांड iQOO में शामिल होने के साथ, इसके ऑनलाइन शिपमेंट में आने वाली तिमाहियों में बदलाव हो सकता है। इसके अलावा ओप्पो 25 फीसदी गिरावट के साथ इस लिस्ट में पांचवें नंबर पर था।
वेंडर-वाइज शिपमेंट के अलावा, IDC ने अपनी रिपोर्ट में कुछ अन्य दिलचस्प जानकारियों का उल्लेख किया है। इसने कहा कि पिछले दो वर्षों में ई-कॉमर्स शेयरों महामारी के कारण पहली तिमाही में मामूली गिरावट के साथ 49 प्रतिशत पर आ गए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

4 × two =