मोबाइल फोन न दिलाने पर विवाहिता ने चुनी ली मौत

महोबा :- ग्राम शाहपहाड़ी में मोबाइल फोन न मिलने से नाराज होकर विवाहिता ने सल्फास खा लिया। तबीयत बिगड़ने पर स्वजन उसे लेकर जिला अस्पताल आए। यहां सुधार न होने पर झांसी मेडिकल कालेज रेफर किया गया था, लेकिन रास्ते में उसने दम तोड़ दिया।

20 वर्षीय अंगूरी की शादी डेढ़ साल पहले शाहपहाड़ी निवासी नरेंद्र के साथ हुई थी। विवाहिता के ससुर मनीराम ने बताया कि बहू ने शनिवार की रात को सल्फास खा लिया था। उल्टी होने पर घरवालों को इसकी जानकारी हो सकी। रात में ही उसे महोबा जिला अस्पताल लाया गया। प्राथमिक उपचार के बाद उसे मेडिकल कालेज झांसी रेफर कर दिया गया था। रविवार को स्वजन छतरपुर ले जा रहे थे लेकिन रास्ते में ही मौत हो गई। नरेंद्र के चाचा हरिकिशन ने बताया कि बहू ने देवर सुमित से नया मोबाइल फोन दिलाने को कहा था। चाचा ने बहू से कहा था कि शाम को नया मोबाइल दिला देंगे, लेकिन किसी कारणवश वह शाम को मोबाइल नहीं ला पाए थे। रात में अंगूरी ने खाना बनाकर सभी को खाना खिलाया, इसके बाद बिना कुछ बोले अपने कमरे में चली गई थी। उसके चीखने और उल्टी करने की आवाज आई तो दरवाजा तोड़कर अंदर पहुंचे। देखा तो वह तड़प रही थी। अंगूरी के पिता पहरा हमीरपुर निवासी चंद्रशेखर ने बताया कि बेटी ने कभी भी ससुरालीजन पर किसी प्रकार का आरोप नहीं लगाया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

3 × 3 =