Thursday , June 23 2022

बिजली कटौती को लेकर एक राहत देने वाली सामने आई खबर

नई दिल्ली:-  भारत में एक तरफ गर्मी की चिलचिलाती धूप और तपिश से जहां लोगों का हाल बेहाल हो रहा है। वहीं दूसरी तरफ देशभर में लोग बिजली कटौती की गंभीर समस्या से जूझ रहे हैं। ऐसे में एक राहत देने वाली खबर सामने आई है। देश में बिजली की बढ़ती मांग को देखते हुए डेडिकेटेड फ्रेट कारिडोर कारपोरेशन आफ इंडिया ने शुक्रवार को सूचित किया कि आयात से प्राप्त कोयले को प्राथमिकता वाले क्षेत्रों में जल्द से जल्द तेजी से पहुंचाया जाएगा।

डेडिकेटेड फ्रेट कारिडोर कारपोरेशन आफ इंडिया के निदेशक ने कहा

बता दें कि गर्मी के दिनों में देशभर में बिजली की भारी मांग की जा रही है। वहीं कोयले की कमी की वजह से देश में बिजली का संकट भी गहराता जा रहा है।‌ इन समस्याओं के बीच शुक्रवार को समाचार एजेंसी एएनआइ के साथ बातचीत में, डेडिकेटेड फ्रेट कारिडोर कारपोरेशन आफ इंडिया के निदेशक (संचालन और बीडी), एन श्रीनिवास ने भारत में कोयले की आपूर्ति की स्थिति पर बात करते हुए कहा, ‘जो भी कोयले का आयात किया जा रहा है और भारतीय बंदरगाहों तक पहुंच रहा है, हम इसे प्राथमिकता वाले क्षेत्रों के लिए स्थानांतरित कर रहे हैं।’ उन्होंने आगे कहा, ‘पश्चिमी समर्पित फ्रेट कारिडोर में, कोयला आपूर्ति श्रृंखला का पूरा संचलन बंदरगाहों से उन संयंत्रों तक है, जो मुख्य रूप से उत्तरी भारत में स्थित हैं। मुद्रा या कांडला बंदरगाहों पर आने वाला आयातित कोयला तेजी से आगे बढ़ रहा है और हमारे पास है। बहुत स्पष्ट निर्देश दिए गए हैं कि इस उत्पाद को प्राथमिकता के आधार पर आगे बढ़ना है। इसलिए कोयले की आपूर्ति प्राथमिकता के आधार पर तेजी से आगे बढ़ रहे हैं
तीव्र गति से लाया जा रहा है कोयला

एन श्रीनिवास ने आगे बताया, ‘ट्रेन के डिब्बे लगभग 100 किमी प्रति घंटे की गति से चलने वाले कोयले का परिवहन कर रहे हैं। आप देखते हैं कि यह एक स्वचालित खंड है। ये मालगाड़ियां निश्चित पारगमन आश्वासन सुनिश्चित करती हैं।’ अधिकारी ने कहा, ‘हम अब इतनी तेज गति से आगे बढ़ रहे हैं, खासकर दादरी, झज्जर अन्य राजस्थान क्षेत्र के बिजली संयंत्रों के पास पारगमन का समय कम हो गया है

Leave a Reply

Your email address will not be published.

1 × five =