Wednesday , June 29 2022

जानें- तीन देश से क्या सौगात लाए पीएम मोदी

नई दिल्ली :- प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का तीन दिवसीय यूरोप दौरा खत्म हो गया है। पीएम के कार्यक्रम का समापन फ्रांस के दौरे के साथ हुआ। तीन दिवसीय दौरे के बाद पीएम मोदी गुरुवार को स्वदेश पहुंचे। यूरोप दौरे की शुरुआत जर्मनी से हुई थी। जर्मनी के बाद पीएम डेनमार्क और फिर फ्रांस गए थे। इस दौरान कई समझौतों पर मुहर लगी है।

जर्मनी के साथ हुए कई करार

भारत और जर्मनी के साथ कई करार हुए हैं। दोनों देशों के बीच हरित ऊर्जा को लेकर बड़ा समझौता हुआ है। स्वच्छ ऊर्जा के उपयोग को बढ़ावा देने के लिए भारत को 2030 तक 10.5 अरब डालर की सहायता मिलेगी।

ग्रीन हाइड्रोजन टास्क फोर्स का गठन

ऊर्जा के स्वच्छ और अक्षय साधनों में ग्रीन हाइड्रोजन अच्छा विकल्प बनकर सामने आया है। जलवायु परिवर्तन से लड़ने की दिशा में इसकी अहमियत को देखते हुए दोनों देशों ने ग्रीन हाइड्रोजन टास्क फोर्स गठित करने का फैसला लिया है। टास्क फोर्स के माध्यम से दोनों देश इस दिशा में मिलकर प्रयास करेंगे। दोनों देशों ने जलवायु सुरक्षा एवं जैव विविधता संरक्षण के क्षेत्र में साझेदारी के लिए भी संयुक्त घोषणा पर हस्ताक्षर किया
प्रधानमंत्री को जी-7 समिट का न्योता

जर्मन चांसलर ओलाफ शुल्ज ने मोदी को जर्मनी में जून में होने वाली जी-7 बैठक में शामिल होने का न्योता दिया है। शुल्ज ने कहा कि दुनिया तभी विकसित हो सकती है, जब हम यह स्पष्ट कर दें कि दुनिया कुछ ताकतवर देशों के इशारे पर नहीं बल्कि भविष्य के रिश्तों पर ही चलेगी
डेनमार्क में 9 समझौतों पर मुहर

जर्मनी के बाद डेनमार्क पहुंचने पर प्रधानमंत्री मेटे फ्रेडरिक्सन ने पीएम मोदी का जोरदार स्वागत किया। दोनों प्रधानमंत्रियों के बीच गजब की केमिस्ट्री देखने को मिली। फ्रेडरिक्सन ने इंडिया-डेनमार्क बिजनेस फोरम में भाग लिया। दोनों देशों के बीच व्यापार और पर्यावरण संबंधी मुद्दों समेत द्विपक्षीय मुद्दों पर चर्चा हुई। भारत और डेनमार्क के बीच 9 समझौतों पर मुहर भी लगी। हरित शिपिंग, पशुपालन, डेयरी, जल प्रबंधन, ऊर्जा, सांस्कृतिक आदान-प्रदान जैसे 9 क्षेत्रों में करार हुए हैं।
नार्डिक देशों को न्योता

अपनी यात्रा के तीसरे दिन पीएम मोदी नार्वे, स्वीडन, आइसलैंड, फिनलैंड और डेनमार्क के प्रधानमंत्रियों के साथ दूसरे भारत-नार्डिक शिखर सम्मेलन में शामिल हुए। नार्डिक देशों के साथ वार्ता में मोदी ने पांच देशों की सरकारों को सीधे भारत में निवेश का न्योता दिया है। नार्डिक देशों में डेनमार्क, स्वीडन, फिनलैंड, नार्वे व आइसलैंड शामिल हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

three × 3 =