Wednesday , June 22 2022

कोरोना : डॉ देवी प्रसाद शेट्टी ने कहा कि डरने या घबराने की नहीं है जरूरत

बेंगलुरू :देश के विभिन्न हिस्सों में कोरोना (covid-19) के बढ़ते मामलों से पूरे देश में चिंता का माहौल बना हुआ है। इन चिंताओं और महामारी की संभावित चौथी लहर की आशंकाओं के बीच प्रसिद्ध कार्डियक सर्जन डॉ देवी प्रसाद शेट्टी ने सोमवार को कहा कि डरने या घबराने की जरूरत नहीं है। हमारा ध्यान अस्पताल में भर्ती होने की संख्या पर होनी चाहिए न कि सकारात्मक मामलों (positivity cases) पर होनी चाहिए। उन्होंने लोगों को मास्क पहनना जारी रखने और सामाजिक दूरी बनाए रखने की सलाह दी।
डरने और घबराने की नहीं है जरुरत

शेट्टी ने कहा ‘तीसरी लहर इतनी गंभीर नहीं थी, इसलिए डरने या घबराने की कोई जरूरत नहीं है। हमें केवल अस्पताल में भर्ती मरीजों की संख्या के हिसाब से तैयार रहना जाना चाहिए। एक लाख लोगों या 50,000 लोगों के सकारात्मक होने से घबराने की जरुरत नहीं है।’

डॉ शेट्टी पत्रकारों से बात करते हुए कहते हैं कि, ‘पूरा देश कोरोना से संक्रमित (corona positive) हो सकता है, लेकिन अगर अस्पताल में कोई भी COVID मरीज नहीं है, तो इससे कोई फर्क नहीं पड़ता। इसलिए ध्यान अस्पताल में मरीजों की संख्या पर होना चाहिए, न कि मरीजों की कोरोना से संक्रमित संख्या पर।
मास्क पहनना और सामाजिक दूरी जरुरी

नारायण हेल्थ फाउंडेशन के अध्यक्ष एवं संस्थापक डॉ. शेट्टी ने लोगों को मास्क पहनना जारी रखने और सामाजिक दूरी का अभ्यास करने और स्वास्थ्य संबंधी कोई समस्या होने पर डॉक्टरों से परामर्श करने की सलाह दी।

वहीं मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई ने राज्य में कोविड-19 की मौजूदा स्थिति को लेकर वरिष्ठ मंत्रियों, अधिकारियों और स्वास्थ्य विशेषज्ञों के साथ समीक्षा बैठक कर रहे हैं। संभावित चौथी लहर के चिंताओं के बीच स्वास्थ्य मंत्री के सुधाकर ने हाल ही में कहा था कि राज्य में अभी ऐसी स्थिति नहीं है, लेकिन सरकार सभी आवश्यक एहतियाती कदम उठा रही है और अन्य राज्यों और देशों में मामलों में वृद्धि की निगरानी कर रही है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

16 − 2 =