Thursday , June 23 2022

कांग्रेस में मिलता है अपनी बात रखने का मौका

उदयपुर। राजस्थान के उदयपुर में हो रहे तीन दिवसीय चिंतन शिविर के तीसरे दिन पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने पार्टी नेताओं को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) में दलितों का अपमान होता है। राहुल गांधी ने कहा कि इस देश का कौन सा राजनीतिक दल इस प्रकार की बातचीत की अनुमति देगा ? निश्चित तौर पर भाजपा और आरएसएस ऐसा कभी नहीं होने देंगे। भारत राज्यों का एक संघ है, भारत के लोग संघ बनाने के लिए एक साथ आते हैं।

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने कहा कि मेरी लड़ाई आरएसएस व भाजपा की विचारधारा से है, जो हिंसा और नफरत ये फैलाते हैं उसके खिलाफ है, ये मेरी जिंदगी की लड़ाई है, मैं मानने को तैयार नहीं हूं कि हमारे देश में इतनी नफरत फैल सकती है। हमारे खिलाफ बड़ी शक्तियां है, मैं इन शक्तियों से नहीं डरता हूं।

उन्होंने कहा कि हमें बिना सोचे जनता के बीच जाकर बैठ जाना चाहिए जो उनकी समस्या है उसे समझना चाहिए, हमारा जनता के साथ जो कनेक्शन था उस कनेक्शन को फिर से बनाना पड़ेगा। जनता जानती है कि कांग्रेस पार्टी ही देश को आगे ले जा सकती है।

कांग्रेस नेता ने कहा कि कांग्रेस पार्टी ने निर्णय लिया है कि अक्टूबर महीने में पूरी कांग्रेस पार्टी जनता के बीच जाएगी और यात्रा करेगी। जनता के साथ जो रिश्ता कांग्रेस का था उसे फिर से पूरा करेगी। ये शॉर्टकट से नहीं होने वाला है और ये काम पसीना बहाकर ही किया जा सकता है।

इसी बीच उन्होंने कहा कि सरकार ने हिंदुस्तान के युवाओं के भविष्य को नष्ट कर दिया है। एक तरफ बेरोजगारी दूसरी तरफ महंगाई, यूक्रेन में युद्ध हुआ है आने वाले समय में मुद्रा स्फ़ीति पर इसका असर पड़ेगा। राहुल गांधी ने वरिष्ठ नेताओं का जिक्र करते हुए कहा कि उन्होंने हमें दिशा दिखाई और बहुत स्पष्टता है कि कांग्रेस पार्टी को नीति, सोच, राजनीतिक स्थिति के मामले में कहां जाना है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

12 + sixteen =