Thursday , June 23 2022

कविता के माध्यम से भाजपा पर निशाना साधा

मुंबई| भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की महाराष्ट्र इकाई द्वारा राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) के प्रमुख को हिंदुओं से नफरत करने वाला व्यक्ति बताए जाने के एक दिन बाद शरद पवार ने बृहस्पतिवार को कहा कि वह एक कविता की पंक्तियां पेश कर रहे हैं जो कामगार वर्ग की पीड़ा को उजागर करती हैं, लेकिन जो गलत सूचनाएं फैलाना चाहते हैं वे इसके लिए स्वतंत्र हैं।

भाजपा की राज्य इकाई ने सातारा में पवार के दिए गए भाषण का एक वीडियो बुधवार को जारी किया और दावा किया कि ‘‘नास्तिक शरद पवार ने हमेशा हिंदू धर्म से नफरत की है’’ और हिंदू देवी देवाताओं का अपमान किए बगैर उन्हें राजनीतिक सफलता हासिल नहीं हो पाती।

इस पर पवार ने बृहस्पतिवार को पत्रकारों से कहा कि वह राठौर की कविता ‘पत्थरवत’ (स्टोन-कटर) की कुछ पंक्तियां पढ़ रहे हैं। सोशल मीडिया के कुछ उपयोगकर्ताओं ने कहा कि पवार जवाहर राठौर की एक कविता का जिक्र कर रहे हैं जो जातिवाद के मुद्दे से संबंधित है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

sixteen − 8 =