Thursday , June 23 2022

दिव्यांग बच्चे को विमान में सवार होने से रोके जाने की शिकायत सामने आई

नई दिल्‍ली, विमानन कंपनी इंडिगो (IndiGo) की ओर से रांची हवाईअड्डे पर एक दिव्यांग बच्चे को विमान में सवार होने से रोके जाने की शिकायत सामने आई है। इस मसले पर नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने हिदायत देते हुए कहा है कि ऐसे बर्ताव को कतई बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। वहीं इंडिगो के सीईओ ने भी इस घटना पर खेद व्यक्त किया है। यह भी कहा जा रहा है कि लड़का ‘दहशत की स्थिति’ में था इसलिए उसे हैदराबाद जाने वाली उड़ान में सवार होने से रोक दिया गया था
मुताबिक इंडिगो के सीईओ रोनोजाय दत्ता ने कहा कि घटना के सभी पहलुओं की समीक्षा करने के बाद एक संगठन के रूप में हमारा मानना है कि हमने कठिन परिस्थितियों में सर्वोत्तम संभव निर्णय लिया। उन्होंने कहा कि चेक-इन और बोर्डिंग प्रक्रिया के दौरान हमारा इरादा परिवार को ले जाने का था लेकिन बोर्डिंग एरिया में लड़का दहशत की स्थिति में था।

सीईओ ने कहा कि हमारे ग्राहकों को विनम्र एवं अनुकंपा सेवा प्रदान करना हमारे लिए सर्वोपरि है। सुरक्षा दिशानिर्देशों के अनुरूप हवाई अड्डे के कर्मचारियों को एक कठिन निर्णय लेने के लिए मजबूर होना पड़ा। उन्होंने कहा कि हम इस बात को अच्छी तरह समझते हैं कि शारीरिक रूप से दिव्‍यांग लोगों की देखभाल के लिए अपना जीवन समर्पित करने वाले माता-पिता हमारे समाज के सच्चे नायक हैं। हम इस दुर्भाग्यपूर्ण अनुभव के लिए प्रभावित परिवार के प्रति ईमानदारी से खेद व्यक्त करते हैं
मुताबिक लड़के को शनिवार को एयरलाइन की रांची हैदराबाद उड़ान में चढ़ने से रोक दिया गया था। इसलिए उसके माता-पिता ने भी उड़ान में सवार नहीं होने का फैसला किया। वहीं नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि ऐसे बर्ताव को बिल्कुल भी बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

eight − 2 =