उत्तर प्रदेश: लेखपालों के पदों पर जल्द ही होगी भर्ती

प्रयागराज में सालों से रिक्त चले आ रहे लेखपालों के पदों पर जल्द ही भर्ती होगी। शासन की ओर से सभी जिलों में जिलाधिकारियों को पत्र भेजकर रिक्त पदों की जानकारी मांगी है, जिसके बाद सभी जिलों में भर्ती होगी। प्रयागराज में लेखपालों के 846 से अधिक पद स्वीकृत हैं। जिले में लेखपालों के 308 पद रिक्त थे। पिछले दिनों 109 से अधिक लेखपालों का प्रमोशन कानूनगो पद पर हो गया। ऐसे में 417 पद रिक्त हो गए हैं।

आयुक्त एवं सचिव राजस्व परिषद की ओर से सभी जिलाधिकारियों को पत्र भेजकर इसकी सूचना मांगी गई है। अफसरों का कहना है कि प्रदेश भर के आंकड़ों को एकत्र करने के बाद एक भर्ती निकाली जाएगी। लेखपाल संघ के महामंत्री अवनीश पांडेय का कहना है कि रिक्त पदों की संख्या पिछले कुछ समय से बढ़ी है।

तीन तहसीलों में 50 से अधिक पद खाली

तहसीलवार बात की जाए तो तीन तहसीलों में लेखपालों के 50 से अधिक पद खाली हैं। हंडिया में 57, मेजा में 58 और कोरांव में 50 पद रिक्त हैं। जबकि सोरांव में 48, बारा में 45, फूलपुर में 35, करछना में 14 और सदर तहसील में एक पद रिक्त हैं।

प्रभावित होते हैं काम

लेखपालों के भर्ती न होने से आम लोगों को तो परेशान होना ही पड़ता है, साथ ही कार्यरत लेखपालों पर भी दबाव बनता है। तहसीलों में आय-निवास प्रमाणपत्र, खसरा खतौनी आदि के तमाम काम पिछड़ रहे हैं, जिसकी आम लोगों को जरूरत होती है और वो चक्कर लगाते हैं। वहीं प्रत्येक लेखपाल पर दो से तीन लोगों का काम होने के कारण उनकी गुणवत्ता भी ठीक नहीं रहती है
सीआरओ हरिशंकर का कहना है कि शासन से इसके लिए सूचना मांगी गई थी। हमारे यहां लेखपालों के कुल 846 पद हैं, जिसमें वर्तमान में 417 पद रिक्त हो गए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

two × 3 =