Thursday , June 23 2022

इमरान खान ने देश की तत्कालीन सरकार पर जमकर निशाना साधा

इस्लामाबाद:- 9 अप्रैल 2020 को सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद नेशनल असेंबली में विश्‍वास प्रस्‍ताव पर वोटिंग में इमरान खान की सरकार को हार का सामना करना पड़ा था। उनकी सरकार को लेकर देश में 33 दिनों तक राजनीतिक उथल-पुथल मचा रहा। अब देश में पीएम शहबाज शरीफ की नई सरकार बन चुकी है। यह सब होने के बाद पाकिस्तान के पूर्व प्रधान मंत्री और पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ के अध्यक्ष इमरान खान ने एक बड़ा खुलासा किया है। उन्होंने अपने पूर्व सहयोगियों अलीम खान और जहांगीर खान तारीन पर उनके कार्यकाल के दौरान उनसे अवैध लाभ लेने का आरोप लगाया है।

इमरान खान ने एक पोडकास्ट में कहा-

पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान ने एक पोडकास्ट में कहा, ‘अलीम खान ने मुझसे रवि के पास उनकी 300 एकड़ जमीन को वैध बनाने की उम्मीद की थी। मैंने उनके साथ मतभेद विकसित किया।’ इसके बाद एक और बयान में जहांगीर तरीन के बारे में बात करते हुए पीटीआइ प्रमुख ने कहा कि उनकी बड़ी समस्या चीनी संकट है, जिस पर एक आयोग भी बनाया गया था। उन्होंने कहा, ‘तरीन देश के सबसे बड़े डकैतों के साथ खड़े रहे। जब मैंने मामले की जांच के आदेश दिए, तो तरीन के साथ मतभेद पैदा हो गए थे।
अपने सहयोगियों पर इमरान का हमला

पाकिस्तान की स्थानीय मीडिया रिपोर्टों के अनुसार, सत्ता में आने से पहले, नेशनल असेंबली में पाकिस्तान के तत्कालीन प्रधानमंत्री और विपक्ष के नेता शहबाज शरीफ ने तरीन के साथ एक गुप्त बैठक की, जिसमें उन्होंने इमरान खान की सरकार को हटाने पर चर्चा की थी। इमरान खान ने अपने सहयोगियों पर जमकर हमला बोला है। उन्होंने सहयोगियों पर आरोप लगाते हुए कहा, ‘भ्रष्ट व्यवस्था के लाभार्थी संस्थानों में बैठे हैं और हमारे संस्थानों में ऐसे लोग हैं जो उनका समर्थन करते हैं
वहीं दूसरी तरफ इमरान खान के कभी करीबी और विश्वासपात्र अलीम खान ने भी उन पर भ्रष्टाचार को संरक्षण देने का आरोप लगाया है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

twenty − 3 =