Tuesday , June 21 2022

आजमगढ़ : दाह संस्कार से पहले पहुंची पुलिस ने कब्जे में लिया शव

आजमगढ़। मामला आजमगढ़ जिले के महराजगंज थाना क्षेत्र के गोसाईपुर गांव का है। जहाँ ससुराल में विवाहिता की संदिग्ध हालात में मौत हो गई। मायके वालों ने हत्या का आरोप लगाते हुए रोष प्रकट किया। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। मायके वालों ने आरोप लगाया कि गले पर रस्सी का निशान बना हुआ था। उसने पति और अन्य ससुराल वालों के खिलाफ तहरीर दी है। दाह संस्कार से पहले पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

जीयनपुर कोतवाली क्षेत्र के कठईचा गांव निवासी रामहित की बहन कुसुम की शादी वर्ष 2000 में गोसाईपुर गांव निवासी चंद्रसेन से हुई थी। गुरुवार सुबह कुसुम की ससुराल में ही संदिग्धावस्था में मौत हो गई। ससुराल वालों ने मायके पक्ष के लोगों को फोन पर सूचना दिया और बताया कि कुसुम सुबह बाथरूम में गई थी, जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई।

सूचना पर भाई रामहित जब मौके पर पहुंचा तो शव अंतिम यात्रा पर निकलने वाला था। भाई ने बहन के शव को देखा तो गले पर काला निशाना दिखाई दिया। जिसके बाद उसने गला दबा कर हत्या का आरोप लगाते हुए महराजगंज थाना पुलिस को सूचना दी। मौके पर पहुंची महराजगंज पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। घटना से परिजनों में कोहराम मचा हुआ है। मृतका को शादी के बाद दो बच्चे हुए थे और दोनों की मौत हो चुकी है। पति मजदूरी करता है। पुलिस जांच पड़ताल में जुटी हुई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

11 + twenty =