नहीं रहे Congress के तेजतर्रार नेता, दिल का दौरा पड़ने से निधन

नई दिल्ली। पश्चिम बंगाल कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष सोमेन मित्रा का 78 साल की उम्र में निधन हो गया। सोमेन मित्रा को दिल का दौरा पड़ा था। वह पिछले कई दिनों से बीमार भी चल रहे थे। इसके मद्देनजर सोमेन मित्रा का कोलकाता के एक प्राइवेट अस्पताल भार्ती कराया गया था। 78 साल के सोमेन मित्रा ने गुरुवार देर रात करीब 1बजकर 30 मिनट पर अंतिम सांस ली। सोमेन मित्रा का कोरोना टेस्ट भी करवाया गया था। हालांकि, उनकी जांच रिपोर्ट निगेटिव आई थी।

छोरदा यानि मंझला भाई के तौर पर पहचाने जाने वाले मित्रा कांग्रेस के तेजतर्रार नेताओं में से एक थे। वह 60 के दशक में छात्र राजनीति के जरिए कांग्रेस पहुंचे थे। इसके बाद वह कांग्रेस की पश्चिम बंगाल ईकाई के 1992-1996, 1996-1998 और सितंबर 2018 से अब तक तीन बार अध्यक्ष रहे। मित्रा सियालदह विधानसभा क्षेत्र से सात बार विधायक भी चुने गए।

हालांकि, मंझला भाई प्रगतिशील इंदिरा कांग्रेस राजनीतिक पार्टी बनाने के लिए 2008 में कांग्रेस छोड़ दी। बाद में 2009 के लोकसभा चुनाव के मद्देनजर उन्होंने अपनी पार्टी का तृणमूल कांग्रेस में विलय कर दिया और उस साल डायमंड हार्बर संसदीय सीट से टीएमसी के टिकट पर चुनाव जीते। लेकिन, यहां भी उनके दांव पेच नहीं चले सके और उन्होंने 2014 में टीएमसी छोड़कर फिर से कांग्रेस का हाथ थामा। वहीं 2016 विधानसभा चुनाव के दौरान पश्चिम बंगाल में माकपा के नेतृत्व वाले वाम मोर्चा और कांग्रेस के बीच गठबंधन कराने में अहम भूमिका थी।

वहीं सोमेन मित्रा के निधन पर कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने शोक जताया है। उन्होंने ट्वीट कर कहा, इस कठिन समय में मैं सोमेन मित्रा के परिवार और दोस्तों के साथ हूं। हम उन्हें प्यार, शान और सम्मान के साथ याद करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *