मानव तस्करी मामले में यूपी एटीएस का बड़ा खुलासा, मुख्य सरगना समेत तीन गिरफ्तार

लखनऊ। यूपी एटीएस ने मानव तस्करी मामले में एक बड़ा खुलासा किया है। जिसमें रोहिंग्या किशोरियों की तस्करी करने वाले गिरोह का पर्दाफाश हुआ है। बता दें कि यूपी एटीएस के 30 से अधिक अधिकारियों ने 36 घंटे का विशेष अभियान चलाया था। जिसमें मुख्य सरगना समेत तीन लोगों को गाजियाबाद से गिरफ्तार किया गया है। साथ ही तस्करी के लिए ले जाए जा रही दो किशोरियों और एक पुरुष को रिहा कर दिया गया है।

इस मामले एडीजी कानून व्यवस्था प्रशांत कुमार ने बताया कि इस गिरोह के बारे में मानव तस्करी की जानकारी मिली थी। जिसके बाद इसके लिए टीमें गठित कर अभियान चलाया गया था। जांच के दौरान पता चला कि मानव तस्करी का मुख्य सरगना मोहम्मद नूर कुछ रोहिंग्या व बंगलादेशी नागरिकों के साथ ट्रेन ब्रह्मपुत्र मेल से दिल्ली जा रहा है जिसपर यूपी एटीएस की टीम ने 5 व्यक्तियों को प्रदेश के गाजियाबाद रेलवे स्टेशन पर उतारकर पूछताछ की गई।

मामल में गिरोह के सरगना मोहम्मद नूर ने बताया कि उनका एक साथी दिल्ली रेलवे स्टेशन पर उनसे मिलने आने वाला है। एटीएस की टीम ने उसे भी हिरासत में ले लिया। सभी को लखनऊ एटीएस मुख्यालय लाया गया और पूछताछ की। पता चला कि हिरासत में लिए गए उक्त छह में से दो किशोरियों और एक व्यक्ति को तस्करी के लिए मोहम्मद नूर लेकर दिल्ली जा रहा था।

बता दें कि यूपी एटीएस द्वारा बीते दो महीने में रोहिंग्या द्वारा की जा रही मानव तस्करी के मामले में यह दूसरी बड़ी कार्रवाई है। इससे पहले एटीएस ने अलीगढ़, बुलंदशहर और मेरठ से पांच लोगों को गिरफ्तार किया था। माना जा रहा है कि मंगलवार को की गई कार्रवाई भी उसी इनपुट के आधार पर की गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *