Kanpur में बेटियां पैदा होने पर तानों से परेशान युवती ने लगाई फांसी

Kanpur में बेटियां पैदा होने पर तानों से परेशान युवती ने लगाई फांसी

Kanpur में बेटियां पैदा होने पर तानों से परेशान युवती ने लगाई फांसी

कानपुर: एक ओर जहां तमाम लोग नवरात्री में लोग कन्याभोज की तैयारी कर रहे थे। तो वहीं कानपुर ससुरालीजन महिला को तीन बेटियां होने का ताना मार रहे थे। इससे नाराज महिला ने फांसी लगाकर जान दे दी।

8 साल पहले हुई थी शादी

जनपद कन्नौज थाना तालग्राम के गांव अल्मापुर गहलोत निवासी सूरज जाटव की पत्नी बबली 25 वर्ष के तीन बेटियां हैं। जिस पर सास राधिका, ससुर परशुराम व ननदों के ताना मारने से परेशान बबली ने फांसी लगा ली। बेहोशी की हालात में स्वजन उसे लोहिया अस्पताल लेकर आये। वहां डॉक्टर ने बबली को मृत घोषित कर दिया। बबली की मां एल्मा देवी ने बताया की बेटी बबली की शादी 8 वर्ष पूर्व जनपद कन्नौज के थाना तालग्राम के गांव आल्मापुर निवासी सूरज से हुई थी। बबली को तीन बेटियां होने के कारण ससुराल में आएदिन ताना मिलते थे। इससे बेटी बबली अक्सर परेशान रहती थी। बबली की मां ने बताया के बबली के पिता की मौत इसी माह 14 अक्टूबर को हार्ट अटैक पडऩे के कारण मौत हो चुकी है।

पति से हुआ था पैसों के लेकर विवाद

उधर, बबली की सास ने बताया कि उसके परिवार के सभी लोग रिस्तेदार के देखने हॉस्पिटल गए थे। घर पर उसकी बहू और एक बेटी काजल मौजूद थी। काजल ने उन्हें सूचना दी कि भाभी की तबियत खराब हो गई है। जब घर पर आकर देखा तो बहू बबली बेड पर पड़ी थी। जिस पर वह लोग उसे लोहिया अस्पताल लेकर आये। बबली के पति सूरज ने बताया के उसने अपनी पत्नी से रुपये मांगे थे। जिस पर उसका और बबली से विवाद हो गया था। इससे नाराज हो कर उसने फांसी लगाकर जान दे दी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *