Sawan 2021 : जानें शिवलिंग का महत्व और पूजा से होने वाला लाभ

धर्म डेस्क। सावन का महीना 25 जुलाई से शुरू हो गया है। यह माह भगवान भोलेनाथ को समर्पित है। सावन के सोमवार का एक विशेष महत्व है। इस दिन भगवान शिव की विधिवत पूजा से हर मनोकामना पूरी होती है। इस माह में भगवान शिव के निराकार स्वरूप शिवलिंग की भी पूजा की जाती है। सावन में इनका पूजन विशेष फलदायी होता है। हिंदू धर्म शास्त्रों में शिवलिंग के विविध स्वरूपों का वर्णन मिलता है। इनके विभिन्न रूपों के पूजन से अलग –अलग लाभ भी मिलता है। तो आइये जानें इनके विविध स्वरूप वे उनके पूजन से लाभ…

पत्थर का शिवलिंग

अक्सर विभिन्न शिवालयों में पत्थर के शिवलिंग की पूजा की जाती है। इसके पीछे धार्मिक मान्यता है कि पत्थर के शिवलिंग की नियमित पूजन करने व जलाभिषेक करने से भक्त की सभी मनोकामना पूरी होती है और सिद्धियों की प्राप्ति होती है।

पारद शिवलिंग

पारा और चांदी से बने शिवलिंग को पारद शिवलिंग कहते हैं। इसके पीछे की धार्मिक मान्यता है कि सावन माह में पारद शिवलिंग की पूजा करने से धन- दौलत व संपत्ति के प्राप्ति की मनोकामना पूरी होती है। ऐसा कहा जाता है कि पारद शिवलिंग को दुकान या व्यापार स्थल पर रखने से व्यापार में वृद्धि होती है। साथ ही इससे आर्थिक समस्याएं दूर होती हैं।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *