Ayodhya में तैयार है 40 फीट ऊंचा रावण, दहन का होगा लाइव प्रसारण

Ayodhya में तैयार है 40 फीट ऊंचा रावण, दहन का होगा लाइव प्रसारण

Ayodhya में तैयार है 40 फीट ऊंचा रावण, दहन का होगा लाइव प्रसारण

अयोध्या: यह पहला अवसर है जब अयोध्या में रामजन्म भूमि का फैसले के बाद पहली बार रामनगरी अयोध्या में रामलीला की प्रस्तुति इतनी व्यापकता से हो रही है। लक्ष्मणकिला का परिसर विजयादशमी के अवसर पर रावण के 40 फीट ऊंचे पुतले से सज्जित हो गया है, जिसका दहन रविवार को रावण वध के मंचन के साथ किया जाएगा। इसी के साथ फिल्मी सितारों की रामलीला का विजयादशमी के मौके पर समापन होगा। रविवार को रामलीला का लाइव प्रसारण साढ़े तीन बजे शाम से शुरू होगा और शाम पांच बजे रावण का दहन होगा।

लक्ष्मणकिला के परिसर में आयोजित रामलीला बांध रखा है समां

जिन श्रीराम के शौर्य से दशकंधर रावण के वध की स्मृति में प्रत्येक वर्ष क्वार शुक्ल पक्ष की दशमी विजय दशमी के रूप में मनायी जाती है, उन श्रीराम की नगरी में दशहरा का मर्म अपूर्व होता है। इस बार रामजन्मभूमि पर राम मंदिर निर्माण का मार्ग प्रशस्त होने के साथ इस पर्व में चार-चांद लगते प्रतीत हो रहे हैं। यह फर्क सरयू तट पर स्थित शीर्ष पीठ लक्ष्मणकिला के परिसर में आयोजित फिल्मी सितारों की रामलीला से बखूबी परिभाषित हो रहा है।

कलाकारों ने कहा अविस्मरणीय यह रामलीला

लक्ष्मणकिला के परिसर में बीते 17 अक्टूबर से चल रहे रामलीला में काम करने वाले कलाकारों ने बताया की इस बार रामलीला का हिस्सा होना उनके लिए भी गर्व की बात है और यह रामलीला उन्हें हमेशा याद रहेगी। इस बीच असत्य पर सत्य की विजय का महापर्व लोगों को शिद्दत से रोमांचित कर रहा है। इस रोमांच में वे कलाकार भी शामिल हैं, जो रामलीला में भूमिका का निर्वहन कर रहे हैं। श्रीराम की भूमिका का निर्वहन कर रहे रजत पट के संभावनाशील युवा कलाकार सोनू डागर कहते हैं, रामनगरी में श्रीराम की भूमिका का निर्वहन हमारे जीवन को नये सिरे से प्रकाशित करने वाला है, तो राम मंदिर निर्माण की संभावना प्रशस्त होने की बेला में रावण वध का अभिनय शायद अगले जन्म तक भी मेरे लिए अविस्मरणीय होगा।

श्रीराम के साथ कंधे से कंधा मिलाये नजर आने वाले लक्ष्मण की भूमिका में लवकेश धालीवाल अभिनय की छाप छोड़ने के साथ विजय दशमी की पूर्व बेला में कहीं अधिक रोमांचित होते हैं। अपने अनुभव के सवाल पर वे रावण के ऊंचे पुतले की ओर इशारा करते हुए कहते हैं, शनिवार को जब इसका दहन होगा, तब देश-दुनिया में अन्याय-अनाचार के एक युग के अंत की संभावना प्रशस्त हो रही होगी।

कुंभकर्ण की भूमिका निभाने वाले मंजे कलाकार एवं भाजपा की दिल्ली इकाई के वरिष्ठ नेता मुखिया गुर्जर कहते हैं, हम रामनगरी में आकर राममय हो गये हैं और प्रतीत हो रहा है कि हम जैसे दूसरी दुनिया में पहुंच गये हैं तथा यह एहसास रावण का पुतला दहन होने के साथ और पुख्ता होगा।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *