कमलनाथ के बयान पर राहुल खफा, बोले – ऐसी भाषा मुझे पसंद नहीं

कमलनाथ के बयान पर राहुल खफा, बोले - ऐसी भाषा मुझे पसंद नहीं

कमलनाथ के बयान पर राहुल खफा, बोले - ऐसी भाषा मुझे पसंद नहीं

भोपाल : मध्य प्रदेश के डबरा में कांग्रेस प्रत्याशी सुरेश राजे के समर्थन में प्रचार करने पहुंचे पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ बीते दिन अपने बयान को लेकर चौतरफा घिर चुके हैं. रैली के दौरान एमपी की मंत्री इमारती देवी को आइटम कहे जाने के विरोध में प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, भाजपा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया, केन्द्रीय मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर एवं अन्य पार्टी नेता सोमवार को राज्य में विभिन्न जगहों पर धरने पर बैठे तथा दो घंटे का मौन व्रत रखा.

वहीँ अब कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने कमलनाथ के इमरती देवी को लेकर दिए बयान को दुर्भाग्‍यपूर्ण बताया है. कांग्रेस के पूर्व अध्‍यक्ष का कहना है कि वह इस तरह की भाषा पसंद नहीं करते हैं, फिर वह किसी भी शख्‍स द्वारा इस्‍तेमाल की गई हो.

राहुल गांधी से जब कमलनाथ के इमरती देवी को लेकर दिए बयान के बारे में पूछा गया, तो उन्‍होंने कहा, ‘देखिए, कमलनाथ जी मेरी पार्टी से ही हैं. लेकिन मैं निजी तौर पर इस तरह की भाषा पसंद नहीं करता हूं, जिसका इस्‍तेमाल उन्‍होंने किया है. मैं इसकी सराहना नहीं करता, चाहे वह कोई भी हो. यह दुर्भाग्यपूर्ण है.’ उन्‍होंने कहा कि महिलाएं हर क्षेत्र में बढ़-चढ़कर भाग ले रही हैं. हमें महिलाओं का सम्‍मान करना चाहिए. इस तरह की भाषा का महिलाओं के लिए इस्‍तेमाल मुझे कतई पसंद नहीं है.

मामले पर सियासत गरमाने लगी तो कमलनाथ भी सफाई देते दिखे. उन्होंने कहा कि उन्होंने किसी का अपमान करने के उद्देश्य से ऐसा नहीं कहा है. वह दरअसल, इमरती देवी का नाम भूल गए थे. फिर एक शख्स के हाथ में कागज की तरफ इशारा करते हुए वो बोले कि यह हमारी लिस्ट है, जिसमें आइटम नं.1, आइटम नं. 2 लिखा है. क्या यह किसी का अपमान है? शिवराज मौका ढूंढ़ रहे हैं, लेकिन कमलनाथ किसी का अपमान नहीं करता.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *