कारोबारी से 10 लाख की रिश्वत लेते पुलिस कांस्टेबल रंगे हाथो गिरफ्तार

कारोबारी से 10 लाख की रिश्वत लेते पुलिस कांस्टेबल रंगे हाथो गिरफ्तार

कारोबारी से 10 लाख की रिश्वत लेते पुलिस कांस्टेबल रंगे हाथो गिरफ्तार

जयपुर : जयपुर के एक होटल में रिश्वत के मामले में एंट्री करप्शन ब्यूरो (Anti-Corruption Bureau) ने एक कांस्टेबल को गिरफ्तार किया है. कांस्टेबल श्रीगंगानगर के जवाहर नगर थाने में तैनात है. बता दें कि रिश्वत कि ये रकम यूपी के एक दवा कारोबारी के भतीजे को एनडीपीएस एक्ट के एक मुकदमे में आरोपी न बनाने के एवज में मांगी गई थी.

इसी मामले में आरोपी कांस्टेबल कारोबारी से 16 लाख रुपए की रिश्वत पहले भी ले चुका था. रिश्वत के इस खेल में जवाहर नगर थाना प्रभारी राजेश कुमार सियाग भी शामिल था. वह झुंझुनूं का रहने वाला है. एंटी करप्शन ब्यूरो की कार्रवाई की भनक लगी तो वह मौके से फरार हो गया.

आरोपी कांस्टेबल नरेशचंद ने बताया कि ढाई-ढाई लाख रुपए वह और एएसआई सोहनलाल आपस में बांटने वाले थे. इसके अलावा 10 लाख रुपए मुकदमे में जांच अधिकारी राजेश कुमार सियाग को देने की बात तय हुई थी. इसके बाद वे दोनों 15 लाख रुपए लेकर गंगानगर लौट आए.

यह कार्रवाई एसीबी जोधपुर टीम के प्रभारी एडिशनल एसपी नरेंद्र सिंह चौधरी व पुलिस इंस्पेक्टर मनीष वैष्णव की अगुवाई में टीम ने की. एसीबी के डीजी बीएल सोनी ने बताया कि मंगलवार को जयपुर में टोंक रोड पर स्थित होटल रेडिसन ब्लू में कांस्टेबल नरेशचंद मीणा रिश्वत लेते हुए गिरफ्तार किया गया है. वह करौली जिले के नादौती तहसील में गांव मिलक सराय का रहने वाला है. फिलहाल श्रीगंगानगर जिले के जवाहर नगर थाने में तैनात है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *