पाक-चीन को छोड़ पीएम मोदी ने पड़ोसी देशों को दी नए साल की बधाई

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को फोन पर भूटान, श्रीलंका, बांग्लादेश, नेपाल और मालदीव के शीर्ष नेताओं को नए साल की बधाई दी. हालांकि पीएमओ की ओर से किए गए ट्वीट में पाकिस्तान और चीन के किसी नेता से बातचीत का जिक्र नहीं था. पीएम मोदी ने बातचीत में ‘Neighbourhood First’ नीति पर शांति, सुरक्षा, समृद्धि और प्रगति पर जोर दिया.

पीएम ने इन नेताओं से की बातचीत

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भूटान के राजा जिग्मे खेसर नामग्येल वांगचुक, पीएम लोट्ट टीशिंग, श्रीलंका के राष्ट्रपति गोटाबाया राजपक्षे, प्रधानमंत्री महिंदा राजपक्षे, मालदीव के राष्ट्रपति इब्राहिम मोहम्मद सोलिह, बांग्लादेश की पीएम शेख हसीना और नेपाल के पीएम के.पी. शर्मा ओली से बातचीत की. प्रधानमंत्री ने इन नेताओं को भारत के लोगों और उनकी ओर से नए वर्ष की शुभकामनाएं दीं.

भूटान की यात्रा को किया याद

भूटान के राजा जिग्मे खेसर नामग्येल वांगचुक के साथ बातचीत में पीएम मोदी ने पिछले साल की महत्वपूर्ण उपलब्धियों पर बात की, जिसने भारत-भूटान के बीच विशेष संबंधों को और मजबूत किया. पीएम मोदी ने भूटान की अपनी अंतिम यात्रा और वहां के लोगों से मिले प्यार और स्नेह को याद किया.

मैत्रीपूर्ण संबंधों को और बढ़ाएंगे

श्रीलंका के राष्ट्रपति गोटाबाया राजपक्षे और पीएम मोदी की बातचीत गर्मजोशी के साथ हुई. दोनों नेताओं ने विश्वास जताया कि भारत और श्रीलंका साल 2020 में अपने मैत्रीपूर्ण संबंधों को और बढ़ाएंगे. दोनों नेताओं ने इस पर मिलकर साथ काम करने की प्रतिबद्धता दोहराई. वहीं, प्रधानमंत्री महिंदा राजपक्षे ने दोनों देशों के बीच संबंधों को और बढ़ाने की इच्छा व्यक्त की.

शेख हसीना को दी बधाई

प्रधानमंत्री मोदी और मालदीव के राष्ट्रपति इब्राहिम मोहम्मद सोलिह ने मौजूदा द्विपक्षीय सहयोग को बढ़ाने और एक साथ काम करने की इच्छा व्यक्त की. वहीं, पीएम मोदी ने बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना को अगले तीन वर्षों के लिए अवामी लीग के अध्यक्ष के रूप में फिर से चुने जाने पर बधाई दी. साथ ही भारत के पूर्व उच्चायुक्त सैयद मुअज्जम अली के निधन पर पीएम मोदी ने शोक व्यक्त किया. उनके बीच राजनयिक संबंधों के अलावा कई मसले पर बातचीत हुई.

नेपाल से इस पर बनी सहमति

नेपाल के पीएम ओली से बातचीत में नरेंद्र मोदी ने 2019 में कई परियोजनाओं के पूरा होने के साथ भारत-नेपाल संबंधों की प्रगति पर संतोष व्यक्त किया. दोनों नेताओं ने विराटनगर में एकीकृत चेक पोस्ट के शीघ्र उद्घाटन और वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से नेपाल में आवास पुनर्निर्माण परियोजना के लिए सहमति व्यक्त की.