पड़ोसी के बच्चे को चोरी कर साढ़े 3 लाख में बेचा, पुलिस ने ऐसे सुलझाई गुत्थी

जमशेदपुर : झारखण्ड के जमशेदपुर से एक ऐसी घटना सामने आई है जहां एक मां ने अपने बच्चे के इलाज के लिए पड़ोसी के बच्चे को बेच दिया. वहीँ इस गुत्थी को सुलझाते हुए झारखण्ड पुलिस ने महज 12 घंटे में बच्चे और पैसे बरामद कर आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है.

दरअसल घटना जमशेदपुर की सिदगोड़ा थाना अन्तर्गत ग्वाला बस्ती की है जहां विकास रजक के डेढ़ साल के बेटे रिशु कुमार के लापता होने की रिपोर्ट पुलिस के पास दर्ज कराई गई थी. इस मामले को बेहद गंभीरता से लेते हुए पुलिस ने कार्रवाई शुरू कर दी. कार्रवाई के दौरान जानकारी मिली कि इस मामले में पड़ोसी महिला बबली कौर की भूमिका संदिग्ध नजर आ रही है.

उसके बाद पुलिस ने तुरंत कार्रवाई करते हुए बबली कौर और नीतू कौर को गिरफ्तार किया. पूछताछ में उसने पुलिस को बताया कि उसने बच्चे को चोरी कर बागबेड़ा के रहने वाले दपंती मंजीत सिंह और प्रभजीत कौर उर्फ सिम्मी को तीन लाख रुपये में बेच दिया. जिसके बाद पुलिस ने उस बच्चे को मंजीत सिह के गोलमुरी स्थित ससुराल से बरामद कर लिया.

डीएसपी पवन कुमार ने बताया कि पूछताछ में बबली कौर ने बताया है कि उसका एक बेटा विकलांग है और उसे इलाज के लिए पैसा की आवश्यकता है. इसलिए उसने पड़ोसी के बच्चे की चोरी कर मंजीत सिंह को बेचा और इस दौरान उससे मिले साढ़े तीन लाख रुपये को अपनी बेटी नीतू के पास रखवा दिया, जिसे पुलिस ने बरामद कर लिया है. उन्होंने बताया पुलिस ने इस मामले में तीन माहिला सहित चार लोगों को गिरफ्तार किया है. इसके अलावा तीन लाख रुपये नगद और बच्चा बेचने का एग्रीमेंट पेपर बरामद किया गया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *